स्वास्थ्य ठीक नहीं रहने के चलते ब्रिगेड रैली में शामिल नहीं होंगे पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य

buddhadeb bhattacharya
माकपा के वरिष्ठ नेता बुद्धदेव भट्टाचार्य ने एक बयान में कहा, ‘‘मेरे कॉमरेड (माकपा कार्यकर्ता) जमीन पर लड़ रहे हैं और मुझे डॉक्टरों की सलाह के अनुसार घर पर रहना पड़ रहा है। यह अकल्पनीय है कि ब्रिगेड परेड ग्राउंड में इतनी विशाल रैली हो रही है और मैं इसमें शामिल नहीं हो सकता।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री एवं माकपा के वरिष्ठ नेता बुद्धदेव भट्टाचार्य स्वास्थ्य ठीक नहीं रहने के कारण रविवार को ब्रिगेड परेड ग्राउंड में पार्टी की रैली में शामिल नहीं होंगे। वाम-कांग्रेस-आईएसएफ गठबंधन पश्चिम बंगाल में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए अपने प्रचार अभियान की शुरुआत ब्रिगेड परेड ग्राउंड में एक जनसभा के जरिए करेगा। भट्टाचार्य(76) ने जनसभा में शामिल नहीं होने को लेकर अफसोस जताया है। उन्होंने एक बयान में कहा, ‘‘मेरे कॉमरेड (माकपा कार्यकर्ता) जमीन पर लड़ रहे हैं और मुझे डॉक्टरों की सलाह के अनुसार घर पर रहना पड़ रहा है। यह अकल्पनीय है कि ब्रिगेड परेड ग्राउंड में इतनी विशाल रैली हो रही है और मैं इसमें शामिल नहीं हो सकता। मैं रैली की सफलता की कामना करता हूं।’’ 

इसे भी पढ़ें: बंगाल में गरजे अधीर रंजन चौधरी, बोले- वाम-कांग्रेस महागठबंधन TMC और BJP को हरायेगा 

पार्टी सूत्रों के अनुसार, भट्टाचार्य द्वारा रैली के लिए एक लिखित संदेश भेजे जाने की संभावना है। इसी मैदान में 2019 में इस तरह की एक जनसभा के दौरान भट्टाचार्य थोड़ी देर तक ही वहां रहे थे, लेकिन स्वास्थ्य सही नहीं रहने के कारण सभा को संबोधित नहीं कर सके थे। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर चौधरी और आईएसएफ के अब्बास सिद्दीकी रविवार की रैली में मुख्य वक्ता होंगे। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और राजद नेता तेजस्वी यादव भी उपस्थितरहेंगे। इसके अलावा, कांग्रेस और वाम दलों के प्रदेश स्तर के नेता भी इसमें शामिल होंगे। राजद, पश्चिम बंगाल में वाम-कांग्रेस गठबंधन का हिस्सा है। उल्लेखनीय है कि किसी समय प्रतिद्वंद्वी रहे कांग्रेस और वाम मोर्चा कोलकाता में पहली बार एक संयुक्त रैली करने वाले हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़