पूर्वोत्तर की संस्कृति और भाषा को नष्ट कर देगा सीएए: कांग्रेस सांसद का दावा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 31, 2020   19:05
पूर्वोत्तर की संस्कृति और भाषा को नष्ट कर देगा सीएए: कांग्रेस सांसद का दावा

कांग्रेस सांसद अब्दुल खालिक ने शुक्रवार को दावा किया कि सीएए पूर्वोत्तर के लोगों के खिलाफ है और इससे क्षेत्र की भाषा एवं संस्कृति नष्ट हो जाएगी। असम से लोकसभा सदस्य खालिक ने कहा कि कांग्रेस सीएए का संसद के भीतर और बाहर पुरजोर विरोध करती रहेगी।

नयी दिल्ली। कांग्रेस सांसद अब्दुल खालिक ने शुक्रवार को दावा किया कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) पूर्वोत्तर के लोगों के खिलाफ है और इससे क्षेत्र की भाषा एवं संस्कृति नष्ट हो जाएगी। असम से लोकसभा सदस्य खालिक ने संवाददाताओं से यह भी कहा कि कांग्रेस सीएए का संसद के भीतर और बाहर पुरजोर विरोध करती रहेगी। उन्होंने कहा, ‘‘सीएए से पूर्वोत्तर और असम के लोगों का हित प्रभावित होगा। इससे इस क्षेत्र के लोगों की संस्कृति और भाषा खतरे में पड़ जाएगी।’’

इसे भी पढ़ें: CAA पर PM मोदी का बड़ा बयान, हमने कुछ गलत नहीं किया, रक्षात्मक होने की जरूरत नहीं

खालिक ने राष्ट्रपति के अभिभाषण में सीएए का उल्लेख होने की पृष्ठभूमि में यह टिप्पणी की। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को ‘‘ऐतिहासिक करार’’ देते हुए शुक्रवार को कहा कि इसने महात्मा गांधी के स्वप्नों को पूरा किया है। उन्होंने सीएए सहित विभिन्न मुद्दों पर हो रहे प्रदर्शनों की ओर इशारा करते हुए कहा कि विरोध प्रदर्शनों के दौरान हिंसा से लोकतंत्र कमजोर होता है।

इसे भी देखें: पाकिस्तान में मंडप से उठा लेते हैं हिंदु लड़कियों को, जबरन कराते हैं निकाह





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।