नोटबंदी पर केंद्र को श्वेत पत्र लाना चाहिए: अरविंद केजरीवाल

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 29 2018 7:01PM
नोटबंदी पर केंद्र को श्वेत पत्र लाना चाहिए: अरविंद केजरीवाल
Image Source: Google

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज कहा कि नोटबंदी से देश के लोग बहुत ज्यादा प्रभावित हुए हैं और इससे जो कुछ हासिल हुआ, उस पर केंद्र को एक ‘‘श्वेत पत्र’’ लेकर आना चाहिए।

नयी दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज कहा कि नोटबंदी से देश के लोग बहुत ज्यादा प्रभावित हुए हैं और इससे जो कुछ हासिल हुआ, उस पर केंद्र को एक ‘‘श्वेत पत्र’’ लेकर आना चाहिए। मुख्यमंत्री ने यह मांग आरबीआई के इस बयान के बाद की है, जिसमें कहा गया है कि चलन से बाहर किए गए 500 और 1000 रुपये के नोटों में 99.3 प्रतिशत बैंकिंग प्रणाली में लौट आए हैं। 

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘नोटबंदी से लोग बहुत ज्यादा प्रभावित हुए। कई लोगों की मौत हो गई। कारोबार को नुकसान पहुंचा। लोगों को यह जानने का अधिकार है कि नोटबंदी से क्या हासिल किया गया? सरकार को इस पर एक श्वेत पत्र लाना चाहिए।’’ केजरीवाल और उनकी पार्टी ने नोटबंदी को लेकर भाजपा नीत केंद्र सरकार की पहले भी आलोचना की है।
 
पिछले साल उन्होंने नोटबंदी की एक स्वतंत्र जांच की मांग करते हुए इसे ‘‘सभी घोटालों का घोटाला’’ करार दिया था। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने वापस मिले नोटों की लंबे समय तक गिनती करने के बाद आज कहा कि चलन से बाहर किए गए 99. 3 प्रतिशत नोट बैंकिंग प्रणाली में लौट आए हैं। गौरतलब है कि नोटबंदी की घोषणा आठ नवंबर 2016 को की गई थी। कांग्रेस ने नोटबंदी के मुद्दे पर देश से कथित तौर पर झूठ बोलने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को माफी मांगने को कहा है। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video