रविदास मंदिर को पुनर्स्थापित करने के लिए वैकल्पिक स्थल की पहचान को केंद्र सरकार प्रतिबद्ध: हरदीप पुरी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 13 2019 5:06PM
रविदास मंदिर को पुनर्स्थापित करने के लिए वैकल्पिक स्थल की पहचान को केंद्र सरकार प्रतिबद्ध: हरदीप पुरी
Image Source: Google

पुरी ने ट्वीट किया, ‘‘हम, दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) के उपाध्यक्ष के साथ कोई समाधान ढूंढ़ने और एक ऐसे स्थल की पहचान करने को प्रतिबद्ध हैं जहां मंदिर पुनर्स्थापित किया जा सके।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने प्रभावित पक्षों को इस संबंध में आवश्यक निर्देश जारी करने के लिए माननीय न्यायालय में अपील दायर करने का भी सुझाव दिया है।’

नयी दिल्ली। तुगलकाबाद वनक्षेत्र में गुरु रविदास का मंदिर गिराए जाने से उत्पन्न विवाद के बीच केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने मंगलवार को कहा कि केंद्र कोई समाधान निकालने और इसे ‘‘पुनर्स्थापित’’ करने के लिए संभवत: किसी वैकल्पिक स्थल की पहचान करने को प्रतिबद्ध है। आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल से भी मुलाकात की और गुरु रविदास मंदिर की जगह खाली कराने के उच्चतम न्यायालय के आदेश सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।

इसे भी पढ़ें: DDA ने ढहाया मंदिर, रविदास समाज ने किया पंजाब जाम, कांग्रेस-आप ने साधा केंद्र सरकार पर निशाना

पुरी ने ट्वीट किया, ‘‘हम, दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) के उपाध्यक्ष के साथ कोई समाधान ढूंढ़ने और एक ऐसे स्थल की पहचान करने को प्रतिबद्ध हैं जहां मंदिर पुनर्स्थापित किया जा सके।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने प्रभावित पक्षों को इस संबंध में आवश्यक निर्देश जारी करने के लिए माननीय न्यायालय में अपील दायर करने का भी सुझाव दिया है।’’ मुद्दे पर मंगलवार को दलित संगठनों के आह्वान पर पंजाब के कई हिस्सों में पूर्ण बंद रहा।

इसे भी पढ़ें: रविदास मंदिर ध्वस्त करने को लेकर विरोध प्रदर्शन, अमरिंदर की मोदी से हस्तक्षेप की मांग



अधिकारियों ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने जालंधर-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग सहित कई स्थानों पर सड़कों को अवरुद्ध कर दिया जिससे लंबा यातायात जाम लग गया। राष्ट्रीय राजधानी के तुगलकाबाद वनक्षेत्र स्थित इस ‘मंदिर’ को शनिवार सुबह तोड़ दिया गया था। दिल्ली विकास प्राधिकरण ने सोमवार को जारी बयान में कहा था कि उच्चतम न्यायालय के आदेश पर ढांचे को हटा दिया गया। इसने अपने बयान में ‘मंदिर’ शब्द का इस्तेमाल नहीं किया। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story