हेलिकाप्टर से जायेगी 'छड़ी मुबारक', अमरनाथ यात्रा का होगा पारम्परिक रूप से समापन

By सुरेश एस डुग्गर | Publish Date: Aug 12 2019 1:44PM
हेलिकाप्टर से जायेगी 'छड़ी मुबारक', अमरनाथ यात्रा का होगा पारम्परिक रूप से समापन
Image Source: Google

पवित्र छड़ी मुबारक अब हेलीकाप्टर के जरिए ही पवित्र गुफा पहुंचेगी और वह 14 अगस्त को अपनी विश्रामस्थली दशनामी अखाड़ा से रवाना होगी। पवित्र गुफा में पवित्र छड़ी मुबारक का प्रवेश 15 अगस्त रक्षाबंधन की सुबह होगा।

जम्मू। परंपरा को जीवित रखने की खातिर राज्यपाल शासन ने अमरनाथ यात्रा की प्रतीक छड़ी मुबारक को अब हेलिकाप्टर से अमरनाथ गुफा तक पहुंचा कर उसे स्थापित करने का फैसला किया है ताकि अमरनाथ यात्रा संपन्न मानी जा सके। दरअसल पवित्र ‘छड़ी मुबारक’ शनिवार को निर्धारित कार्यक्रम अनुसार शनिवार को पहलगाम नहीं पहुंच सकी। पवित्र छड़ी मुबारक अब हेलीकाप्टर के जरिए ही पवित्र गुफा पहुंचेगी और वह 14 अगस्त को अपनी विश्रामस्थली दशनामी अखाड़ा से रवाना होगी। पवित्र गुफा में पवित्र छड़ी मुबारक का प्रवेश 15 अगस्त रक्षाबंधन की सुबह होगा। इसके साथ ही बाबा बर्फानी के मुख्य दर्शन के साथ श्री अमरनाथ की वार्षिक तीर्थयात्रा-2019 भी संपन्न हो जाएगी।



संबंधित अधिकारियों ने बताया कि वादी में तनाव के मद्देनजर किसी भी तरह की अप्रिय घटना से बचने के लिए छड़ी मुबारक के संरक्षक महंत दीपेंद्र गिरी के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि छड़ी मुबारक का पवित्र गुफा में पहुंचना अनिवार्य है। जिला उपायुक्त (श्रीनगर) डॉ. शाहिद इकबाल चौधरी ने कहा कि अमरनाथ की छड़ी मुबारक शनिवार पहलगाम रवाना नहीं हुई। महंत दीपेंद्र गिरी व अन्य संत महात्माओं से हुई बातचीत में तय हुआ कि छड़ी मुबारक अब 14 अगस्त को दशनामी अखाड़ा से रवाना होगी। उसे हेलीकॉप्टर के जरिए पवित्र गुफा में पहुंचाया जाएगा। गौरतलब है कि श्री अमरनाथ की वार्षिक तीर्थयात्रा एक जुलाई को शुरू हुई थी, लेकिन प्रशासन ने वादी के मौजूदा हालात के मददेनजर गत दो अगस्त को स्थगित कर दिया था। यात्रा 15 अगस्त को संपन्न होनी थी। करीब साढ़े तीन लाख श्रद्धालुओं ने हिमलिंग के दर्शन किए थे।
 
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video