उत्तराखंड सरकार का U-टर्न, कोर्ट के आदेश के बाद चार धाम यात्रा अगले आदेश तक स्थगित

उत्तराखंड सरकार का U-टर्न, कोर्ट के आदेश के बाद चार धाम यात्रा अगले आदेश तक स्थगित

सरकार की ओर से चार धाम यात्रा को हरी झंडी दी गई थी। सरकार ने सोमवार को यात्रा के लिए कोविड गाइडलाइंस भी जारी कर दी थी। गाइडलाइंस के मुताबिक पहले चरण की यात्रा 1 जुलाई से शुरू होना थी जबकि दूसरे चरण की यात्रा 11 जुलाई से शुरू होती। चार धाम यात्रा के लिए कोविड-19 रिपोर्ट नेगेटिव होनी अनिवार्य थी।

उत्तराखंड में चार धाम यात्रा को लेकर हर रोज नए-नए फैसले सामने आ रहे हैं। इन सबके बीच उत्तराखंड सरकार ने चार धाम यात्रा पर बड़ा यू-टर्न लिया है। दरअसल, उत्तराखंड सरकार ने चार धाम यात्रा को अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि सरकार ने ऐसा उत्तराखंड हाई कोर्ट के आदेश को मानते हुए किया है।

इससे पहले सरकार की ओर से चार धाम यात्रा को हरी झंडी दी गई थी। सरकार ने सोमवार को यात्रा के लिए कोविड गाइडलाइंस भी जारी कर दी थी। गाइडलाइंस के मुताबिक पहले चरण की यात्रा 1 जुलाई से शुरू होना थी जबकि दूसरे चरण की यात्रा 11 जुलाई से शुरू होती। चार धाम यात्रा के लिए कोविड-19 रिपोर्ट नेगेटिव होनी अनिवार्य थी।

इसे भी पढ़ें: BJP विधायक पर घरेलू हिंसा का आरोप लगाने के बाद अब पत्नी ने बंद कराया केस

सोमवार को ही उत्तराखंड हाईकोर्ट में चार धाम यात्रा के मामले में सुनवाई की थी। सरकार ने सीमित लोगों के साथ चार धाम यात्रा शुरू करने की बात कही थी। लेकिन कोर्ट ने फिलहाल इस पर रोक लगा दी है। इस मामले में 7 जुलाई को फिर से सुनवाई होगी। कोर्ट ने चार धाम यात्रा पर रोक लगाते हुए कहा कि मंदिरों की लाइव स्ट्रीमिंग होनी चाहिए। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।