मुख्यमंत्री गहलोत आज बाढ़ प्रभावित जिलों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे

Rajasthan CM Ashok Gehlot
प्रतिरूप फोटो
ANI
उन्होंने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में किए जा रहे बचाव एवं राहत कार्यों की जानकारी लेने के बाद अधिकारियों को फसल, पशुओं तथा सार्वजनिक एवं निजी सम्पत्तियों को हुए नुकसान का शीघ्र आकलन करने के निर्देश दिए। राज्‍य में लगातार बारिश, नदियों के उफान पर आने एवं बांधों के द्वार खोले जाने से राज्‍य के कोटा संभाग के अनेक जिलों में इस सप्‍ताह जलभराव के कारण बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए।

जयपुर, 27 फरवरी।  राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राज्‍य के बाढ़ प्रभावित धौलपुर एवं करौली जिलों का शुक्रवार को हवाई सर्वेक्षण करेंगे और प्रभावि‍त लोगों से मिलेंगे। आधिकारिक प्रवक्‍ता ने बताया कि गहलोत शुक्रवार दोपहर बाद धौलपुर एवं करौली जिलों के बाढ़ग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे। उनका धौलपुर के राजाखेड़ा एवं करौली के मंडरायल में प्रभावित लोगों से मिलने का कार्यक्रम भी है। उल्‍लेखनीय है कि गहलोत ने बृहस्पतिवार को भारी वर्षा से प्रभावित बूंदी, कोटा और बारां जिलों के विभिन्न क्षेत्रों में गहवाई सर्वेक्षण किया था।

उन्होंने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में किए जा रहे बचाव एवं राहत कार्यों की जानकारी लेने के बाद अधिकारियों को फसल, पशुओं तथा सार्वजनिक एवं निजी सम्पत्तियों को हुए नुकसान का शीघ्र आकलन करने के निर्देश दिए। राज्‍य में लगातार बारिश, नदियों के उफान पर आने एवं बांधों के द्वार खोले जाने से राज्‍य के कोटा संभाग के अनेक जिलों में इस सप्‍ताह जलभराव के कारण बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए। भारतीय वायुसेना एवं राज्‍य आपदा मोचन बल के दलों ने लगभग 5,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है। बीते दो दिन से राज्‍य में भारी बारिश का दौर थमने से लोगों एवं प्रशासन ने राहत की सांस ली है। मौसम विभाग के अनुसार, अगले चार-पांच दिनों के दौरान राज्य में भारी बारिश की संभावना नहीं है, लेकिन कहीं-कहीं हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़