मुख्यमंत्री ने महाकुंभ 2025 को लेकर प्रयागराज में समीक्षा बैठक की

CM Yogi
प्रतिरूप फोटो
ANI
मुख्यमंत्री ने विभागवार तैयारियों की समीक्षा करते हुए कहा कि महाकुम्भ-2025 में लगभग 40 करोड़ श्रद्धालुओं के आने की संभावना है जिसे ध्यान में रखते सभी तैयारियां की जाएं। योगी आदित्यनाथ ने महाकुंभ में 1,000 इलेक्ट्रिक बसें चलाने के लिए कार्य योजना बनाने का निर्देश दिया।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बृहस्पतिवार को यहां परेड ग्राउंड स्थित आईसीसीसी सभागार में महाकुंभ 2025 और माघ मेला 2023 की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की। सूचना विभाग द्वारा जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, मुख्यमंत्री ने महाकुंभ-2025 की तैयारियों की समीक्षा करते हुए कहा कि महाकुंभ अनूठा, अविस्मर्णीय, हरित, दिव्य एवं भव्य रूप से आयोजित किया जायेगा। उन्होंने महाकुंभ की सभी तैयारियां दीपावली-2024 को लक्ष्य बनाकर पूर्ण करने का निर्देश अधिकारियों को दिया।

मुख्यमंत्री ने विभागवार तैयारियों की समीक्षा करते हुए कहा कि महाकुम्भ-2025 में लगभग 40 करोड़ श्रद्धालुओं के आने की संभावना है जिसे ध्यान में रखते सभी तैयारियां की जाएं। योगी आदित्यनाथ ने महाकुंभ में 1,000 इलेक्ट्रिक बसें चलाने के लिए कार्य योजना बनाने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने महाकुंभ में पार्किंग के लिए लगभग 2500 हेक्टेयऱ जमीन की व्यवस्था सुनिश्चित करने का प्रस्ताव तैयार करने और प्रयागराज से जुड़ने वाली सभी सड़कों को चार लेन का करने की कार्ययोजना बनाने का भी निर्देश दिया।

योगी आदित्यनाथ ने पर्यटन विभाग को महाकुंभ-2025 के मद्देनजर आने वाले लोगों के रहने के लिए अच्छे होटल बनाये जाने का प्रस्ताव तैयार कर प्रस्तुत करने को कहा। उन्होंने सर्किट हाउस की भी क्षमता बढ़ाये को कहा। मुख्यमंत्री ने महाकुंभ-2025 को कुंभ-2019 से अधिक विस्तृत क्षेत्रफल में आयोजित करने का लक्ष्य रखा। साथ ही उन्होंने रिवर फ्रंट की व्यवस्था करने की बात भी की। उन्होंने अधिकारियों को रिंग रोड़ के निर्माण का कार्य अनिवार्य रूप से महाकुंभ-2025 से पहले पूरा करने का निर्देश दिया। बैठक में मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र, मण्डलायुक्त विजय विश्वास पंत, जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री, मेलाधिकारी विजय किरण आनंद मौजूद थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़