मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्रधानमंत्री से मुलाकात, केन्द्र से हरसंभव सहायता का मिला आश्वासन

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्रधानमंत्री से मुलाकात,  केन्द्र से हरसंभव सहायता का मिला आश्वासन

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री को दो पुस्तिकाएं -'उम्मीद' और 'मध्यप्रदेश विकास के लिए प्रतिबद्ध प्रयास' भेंट की। मध्य प्रदेश सरकार द्वारा प्रकाशित 'उम्मीद' पुस्तिका में प्रवासी श्रमिकों के लिए मध्यप्रदेश सरकार की सुनियोजित और संवेदनशील पहल का विस्तार से उल्लेख किया गया है।

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से उनके निवास स्थान 7 लोक कल्याण मार्ग में मुलाकात की। 23 मार्च 2020 में मुख्यमंत्री बनने के बाद यह उनकी प्रधानमंत्री से पहली मुलाकात थी। मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री मोदी को कोविड-19 के दौरान प्रदेश में वैश्विक महामारी से निपटने के लिए किये गये प्रयासों और उससे जुड़ी समस्याओं से अवगत कराया। साथ ही इस वैश्विक महामारी से जुड़ी अन्य समस्याएं जैसे प्रवासी मजदूरों के लिए रोजगार, लॉकडाउन के दौरान अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाना आदि के बारे में भी विस्तार से बताया।

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार पर दिल्ली में दो दिनों से जारी माथापच्ची

लगभग आधे घंटे चली मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री को दो पुस्तिकाएं -'उम्मीद' और 'मध्यप्रदेश विकास के लिए प्रतिबद्ध प्रयास' भेंट की। मध्य प्रदेश सरकार द्वारा प्रकाशित 'उम्मीद' पुस्तिका में प्रवासी श्रमिकों के लिए मध्यप्रदेश सरकार की सुनियोजित और संवेदनशील पहल का विस्तार से उल्लेख किया गया है। दूसरी पुस्तिका 'मध्यप्रदेश विकास के प्रतिबद्ध प्रयास’ में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में सौ दिन के कार्यों का लेखा-जोखा दिया गया है। इसमें कोरोना महामारी से जंग को पराजित करने से लेकर अर्थव्यवस्था के सुदृढ़ीकरण की दिशा में किये गये प्रयासों तक का उल्लेख है। साथ ही इस पुस्तक में इस अवधि में किये गये सुधारों और नवाचारों का जिक्र भी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रयासों की सराहना करते हुए कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने के लिए केन्द्र से हरसंभव सहायता देने का आश्वासन दिया। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...