केरल सरकार के कचरा मुक्त अभियान में बच्चे भूमिका निभाएंगे

Children
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
केरल में अब आंगनवाड़ी स्तर के बच्चे जल्द ही राज्य सरकार के महत्वाकांक्षी ‘‘कचरा मुक्त केरल’’ अभियान का हिस्सा होंगे। पूरे राज्य को कचरा मुक्त रखने के बड़े उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए सहकारिता विभाग ने बच्चों को बुनियादी कचरा प्रबंधन का सबक सिखाने और उन्हें कचरा प्रबंधन की प्रक्रिया का हिस्सा बनाने के लिए एक अभियान शुरू किया है।

कोट्टायम (केरल), 20 अगस्त। केरल में अब आंगनवाड़ी स्तर के बच्चे जल्द ही राज्य सरकार के महत्वाकांक्षी ‘‘कचरा मुक्त केरल’’ अभियान का हिस्सा होंगे। पूरे राज्य को कचरा मुक्त रखने के बड़े उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए सहकारिता विभाग ने बच्चों को बुनियादी कचरा प्रबंधन का सबक सिखाने और उन्हें कचरा प्रबंधन की प्रक्रिया का हिस्सा बनाने के लिए एक अभियान शुरू किया है। सहकारिता और सांस्कृतिक मामलों के मंत्री वी. एन. वासवन ने बृहस्पतिवार को यहां एक समारोह में ‘‘स्वच्छता-सहयोग’’ कार्यक्रम का उद्घाटन किया।मंत्री ने कहा कि इस कार्यक्रम में आंगनवाड़ी से लेकर निम्न प्राथमिक विद्यालय स्तर तक के बच्चों में कचरा प्रबंधन की आदत डालने की परिकल्पना की गई है।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता एक प्रमुख कारक है जो प्रगति की ओर ले जाती है। उन्होंने कहा कि कचरे को उसके स्रोत पर शोधित करने की आदत विकसित करना महत्वपूर्ण है।उन्होंने कहा, ‘‘इस पहल का उद्देश्य बच्चों सहित लोगों के विभिन्न समूहों के माध्यम से स्वच्छता और अपशिष्ट प्रबंधन की एक नयी संस्कृति को विकसित करना है।’’ आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इस पहल के तहत आंगनवाड़ियों और स्कूलों में कूड़ादान स्थापित किया जाएगा और शिक्षकों को कचरा प्रबंधन के तरीके सिखाए जाएंगे। उन्हें वैज्ञानिक तरीके से कचरे को अलग करना और उसका शोधन करना सिखाया जाएगा।

उन्होंने बताया कि जो बच्चे प्रतिदिन अलग-अलग कूड़ेदानों में विभिन्न प्रकार के कचरे को जमा होते देखते हैं, वे स्वाभाविक रूप से वैज्ञानिक कचरा प्रबंधन के बुनियादी सबक को आत्मसात करेंगे। सूत्रों ने कहा कि ऐसी प्रणालियों को घरों में इस्तेमाल करने के लिए भी प्रोत्साहित किया जाएगा। मंत्री ने कहा कि इससे बच्चों के मन में यह विचार आएगा कि हम जो कचरा पैदा करते हैं उसका निपटान हमारी जिम्मेदारी है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़