मुख्यमंत्री ने वजीर सिंह डिग्री कॉलेज को पीजी कॉलेज में स्तरोन्नत करने की घोषणा की

मुख्यमंत्री ने वजीर सिंह डिग्री कॉलेज को पीजी कॉलेज में स्तरोन्नत करने की घोषणा की

कोरोना महामारी की लहर के दौरान राज्य सरकार ने देश के विभिन्न भागों में फंसे लगभग 2.50 लाख से अधिक लोगों की सुरक्षित घर वापिसी करवाई। राज्य सरकार ने यह सुनिश्चित किया कि कोरोना महामारी के दौरान भी प्रदेश का विकास निर्बाध जारी रहे।

धर्मशाला। फतेहपुर स्थित वज़ीर राम सिंह स्टेडियम में राज्य सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थी सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि गृहिणी सुविधा योजना के अन्तर्गत पात्र परिवारों को  3.20 लाख गैस कनेक्शन प्रदान किए गए हैं। हिम केयर योजना के अन्तर्गत 1.70 परिवारों को लाभान्वित किया गया है और गंभीर बीमारियों से ग्रसित मरीजों के परिवारों को 3 हजार रुपये प्रतिमाह प्रदान किए जा रहे हैं। प्रदेश के लोगों की शिकायतों के निवारण में जन मंच कार्यक्रम और मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन-1100 सहायक सिद्ध हो रहे हैं। प्रदेश सरकार ने राज्य की गरीब परिवारों से संबंधित कन्याओं के विवाह के समय 31 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए शगुन योजना शुरू की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश कोविड का बेहतरीन प्रबन्धन करने वाले राज्यों में अग्रणी है। राज्य सरकार द्वारा इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए उठाए गए कदमों की सराहना न केवल प्रधानमंत्री बल्कि अन्य प्रदेशों ने भी की है। 

इसे भी पढ़ें: नेता अधिकारी व संपन्न लोग भ्रष्टाचार को बढावा देकर समाजिक तानेबाने को तोड रहे: शान्ता कुमार

उन्होंने कहा कि पिछले 50 वर्षों से प्रदेश व देश में कांग्रेस की सरकार रही और किसी महामारी के दौरान मरीजों के लिए प्रदेश में केवल 50 वेंटिलेटर उपलब्ध थे। उन्होंने प्रधानमंत्री से इस मुद्दे को उठाया जिसके कारण पीएम केयर्ज के अन्तर्गत प्रदेश को तुरंत 500 वेंटिलेटर प्रदान किए गए। आज प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों में 700 वेंटिलेटरों की सुविधा उपलब्ध है।मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी की शुरुआत में प्रदेश में केवल एक ऑक्सीजन संयंत्र था जबकि आज 10 कार्यशील ऑक्सीजन संयंत्र हैं जबकि 28 और संयंत्र शीघ्र स्थापित कर दिए जाएंगे। कोरोना महामारी की लहर के दौरान राज्य सरकार ने देश के विभिन्न भागों में फंसे लगभग 2.50 लाख से अधिक लोगों की सुरक्षित घर वापिसी करवाई। राज्य सरकार ने यह सुनिश्चित किया कि कोरोना महामारी के दौरान भी प्रदेश का विकास निर्बाध जारी रहे। 

इसे भी पढ़ें: ज्वलन्त समस्याओं से जनता का ध्यान हटाना चाहती है भाजपा सरकार: कांग्रेस

राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि मुख्यमंत्री ने दूसरी बार फतेहपुर क्षेत्र का दौरा किया है जो फतेहपुर क्षेत्र के विकास के प्रति उनकी चिन्ता को दर्शाता है। मुख्यमंत्री स्वयं एक साधारण पृष्ठभूमि से संबंध रखते हैं और प्रदेश के लोगों की विकासात्मक अपेक्षाओं से भली-भांति परिचित है। यह केवल भाजपा में ही सम्भव हो सकता है क्योंकि यह कार्यकर्ताओं की पार्टी है जबकि कांग्रेस एक परिवार की पार्टी है। पूर्व सांसद कृपाल परमार ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के सशक्त नेतृत्व में वर्तमान प्रदेश सरकार ने राज्य में विकास के नए युग की शुरूआत की है और फतेहपुर क्षेत्र के साथ प्रदेश भर में अभूतपूर्व विकास हो रहा है। मुख्यमंत्री ने फतेहपुर में शहीद स्मारक के निर्माण, फतेहपुर पुलिस चैकी को पुलिस थाने में स्तरोन्नत करने, फतेहपुर में प्रेस क्लब के निर्माण के लिए 10 लाख रुपये देने और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रे को चैबीसों घंटो सेवा उपलब्ध करवाने वाला स्वास्थ्य संस्थान बनाने की घोषणा की।वज़ीर सिंह राजकीय महाविद्यालय देहरी (फतेहपुर) में एम.ए. हिन्दी और एम.कॉम की कक्षाएं आरम्भ करने व इस महाविद्यालय को स्नातकोत्तर महाविद्यालय में स्तरोन्नत करने की घोषणा की।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।