सीएम नीतीश ने लोगों को चेताया, कहा- बिहार में आ चुकी है कोरोना की तीसरी लहर

सीएम नीतीश ने लोगों को चेताया, कहा- बिहार में आ चुकी है कोरोना की तीसरी लहर

नीतीश ने कहा कि कोरोना से मुक्ति दिलाने में डॉक्टरों ने अहम भूमिका निभाई है और आगे भी वे निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने डॉक्टर के साथ बैठक की थी और राज्य में हम लोगों ने भी कुछ डॉक्टरों के साथ बैठक की थी।

देश में कोरोना वायरस के मामले एक बार फिर से बढ़ने लगे हैं। इन सबके बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बड़ा बयान दे दिया है। नीतीश कुमार ने कहा है कि राज्य में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है। दरअसल नीतीश कुमार आईएमए के 96वें राष्ट्रीय अधिवेशन को संबोधित कर रहे थे। इस संबोधन में उन्होंने कहा कि बिहार में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत हो गई है। आपको बता दें कि कल बिहार में कोरोना वायरस के 47 नए मामले मिले थे। नीतीश कुमार ने इसके साथ ही कोरोना की पहली और दूसरी लहर में डॉक्टरों के योगदान की सराहना भी की।

नीतीश ने कहा कि कोरोना से मुक्ति दिलाने में डॉक्टरों ने अहम भूमिका निभाई है और आगे भी वे निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने डॉक्टर के साथ बैठक की थी और राज्य में हम लोगों ने भी कुछ डॉक्टरों के साथ बैठक की थी। डॉक्टरों से उन्होंने कहा कि आप लोगों ने वैक्सीनेशन पर रिसर्च करके सराहनीय काम किया है। अब हम सभी को तीसरी लहर को लेकर तैयारियों में जुटनी है। 

इसे भी पढ़ें: हरियाणा में कैबिनेट विस्तार के बाद आमने-सामने मनोहर लाल और अनिल विज, मामला अमित शाह तक पहुंचा

इसके साथ ही बिहार में कुछ सख्ती लागू कर दी गई है। बिहार सरकार के फैसले के अनुसार 31 दिसंबर से लेकर 2 जनवरी तक के सभी पार्क और चिड़ियाघर बंद रहेंगे ताकि नए साल के जश्न पर भीड़ को रोका जा सके। हालांकि कुछ दिन पहले नीतीश कुमार ने यह भी बताया था कि बिहार में फिलहाल नाइट कर्फ्यू की जरूरत नहीं है। लेकिन गया और पटना एक बार फिर से कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट बनता हुआ नजर आ रहा है। पटना में कल 10 मामले आए हैं तो 17 मामले गया में आए। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।