CM योगी का कोविड चिकित्सालयों को निर्देश, बेड की संख्या में वृद्धि करने को कहा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 25, 2020   15:30
CM योगी का कोविड चिकित्सालयों को निर्देश, बेड की संख्या में वृद्धि करने को कहा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में प्रतिदिन 85 हजार से अधिक रैपिड एन्टीजन टेस्ट तथा 45 हजार से अधिक आरटीपीसीआर जांच अवश्य की जाएं। इसके अतिरिक्त, ट्रूनैट मशीन के माध्यम से भी अधिक से अधिक जांच की जाएं।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 का चिकित्सा जांच कार्य पूरी क्षमता से संचालित करने के मंगलवार को निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कोविड चिकित्सालयों में बेड की संख्या में वृद्धि करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोविड अस्पतालों की चिकित्सा सुविधाओं को गुणवत्तापरक बनाकर रखा जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में प्रतिदिन 85 हजार से अधिक रैपिड एन्टीजन टेस्ट तथा 45 हजार से अधिक आरटीपीसीआर जांच अवश्य की जाएं। इसके अतिरिक्त, ट्रूनैट मशीन के माध्यम से भी अधिक से अधिक जांच की जाएं। 

इसे भी पढ़ें: विधानसभा में आंकड़े पेश करते हुए बोले योगी आदित्यनाथ, कानून व्यवस्था के लिए विपक्ष कहीं ज्यादा खतरनाक

मुख्यमंत्री यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने जनपद कानपुर नगर, लखनऊ, गोरखपुर, प्रयागराज, वाराणसी तथा बलिया में विशेष सतर्कता बरतने तथा अधिक से अधिक जांच करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस सम्बन्ध में कारगर रणनीति तैयार करते हुए उसका प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के नियंत्रण व उपचार सम्बन्धी विभिन्न गतिविधियों को सुचारु ढंग से संचालित करने में एकीकृत कमान एवं नियंत्रण केंद्रों की महत्वपूर्ण भूमिका है। बेहतर निगरानी से ही मृत्यदर को नियंत्रित किया जा सकता है इसलिए सभी जनपदों में केंद्रों के कार्यों की नियमित निगरानी की जाए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।