माता अन्नपूर्णा की प्रतिमा की स्थापना के लिए वाराणसी पहुँचे सीएम योगी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 15, 2021   10:06
माता अन्नपूर्णा की प्रतिमा की स्थापना के लिए वाराणसी पहुँचे सीएम योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हाथों स्थापित किया जाएगा। प्रतिमा की स्थापना करने के लिए सीएम योगी शनिवार की रात ही वाराणसी पहुंच चुके हैं। देर रात योगी जी शहर में चल रहे निर्माण कार्य का निरीक्षण करने निकले। उसके पश्चात वह काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन कर विश्वनाथ धाम का निरीक्षण किये।

वाराणसी। लम्बे समय के इंतेजार के बाद आखिर वो दिन आ ही गया जब माता अन्नपूर्णा की प्रतिमा कनाडा से वापस आ ही गयी है। माता अन्नपूर्णा की मूर्ति को सोमवार की सुबह प्राण प्रतिष्ठा के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हाथों स्थापित किया जाएगा। प्रतिमा की स्थापना करने के लिए सीएम योगी शनिवार की रात ही वाराणसी पहुंच चुके हैं। देर रात  योगी जी  शहर में चल रहे निर्माण कार्य का निरीक्षण करने निकले। उसके पश्चात वह  काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन कर विश्वनाथ धाम का निरीक्षण किये।

इसे भी पढ़ें: जो जिन्ना का समर्थन कर रहे हैं, वह एक तरह से तालिबान का समर्थन कर रहे हैं : योगी

इसके साथ ही देर रात में माता कुष्मांडा देवी के मंदिर भी दर्शन करने के लिए पहुँचे। जहाँ देर रात पहुँचने वाली माँ अन्नपूर्णा की मूर्ति को रात्रि विश्राम के लिए रखा गया। सोमवार की  सुबह भव्य शोभा यात्रा के रुप में माँ अन्नपूर्णेश्वरी श्री काशी विश्वनाथ मंदिर पहुंचेंगी और बाबा श्री काशी विश्वनाथ के प्रांगण में ईशान कोण पर बनाए गए मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी।इसके साथ ही देव प्रबोधनी एकादशी के शुभ अवसर पर सोमवार को यानी 15 नवम्बर को सीएम योगी विश्वनाथ मंदिर में विधि विधान से प्रतिमा की  प्राण प्रतिष्ठा करेंगे। वही मां अन्नपूर्णा की मूर्ति रविवार की रात दुर्गाकुंड स्थित मां कुष्मांडा के मंदिर में रखी गयी थी। इसके बाद सोमवार सुबह दुर्गाकुंड से प्रतिमा की शोभायात्रा निकाली जाएगी और काशी विश्वनाथ मंदिर पहुंचेगी।

इसे भी पढ़ें: अजय कुमार लल्लू का दावा, UP में कांग्रेस को मिलेगा बहुमत, भाजपा 30 सीट भी नहीं कर पाएगी पार

सीएम योगी ने बातचीत में बताया कि 108 वर्ष पहले काशी से चोरी हुई  माता अन्नपूर्णा की प्रतिमा कनाडा के एक विश्वविद्यालय के संग्रालय से प्राप्त  हुई और आज वह मूर्ति भारत सरकार ने अपने प्रयासों से वापस लाने में सफलता हासिल की।सीएम योगी ने बताया कि काशी विश्वनाथ धाम निर्माण के लिए काशी वासी अपने आप को गौरवशाली महसूस कर ही रहे हैं, साथ ही हर भारत वासी काशी विश्वनाथ धाम के लिए आभारी हैं। अगले महीने तक काशी विश्वनाथ मंदिर के सारे कार्य पूरे हो जाएंगे। जिसका प्रधानमंत्री मोदी के हाथों उद्घाटन किया जाएगा।इसके साथ ही 15 नवंबर को प्रतिमा के प्राण प्रतिष्ठा के बाद सीएम योगी रुद्राक्ष में धर्मगुरुओं से संवाद भी करेंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।