कांग्रेस और NCP महाराष्ट्र चुनाव में उठाएंगी आर्थिक सुस्ती और बेरोजगारी के मुद्दे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 21, 2019   17:37
कांग्रेस और NCP महाराष्ट्र चुनाव में उठाएंगी आर्थिक सुस्ती और बेरोजगारी के मुद्दे

पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस इन मुद्दों और विपक्षी दलों को खत्म करने की कोशिश को लेकर भगवा पार्टियों का मुकाबला करेगी।

मुम्बई। कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अगले महीने महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव में कृषि संकट, आर्थिक सुस्ती और बेरोजगारी जैसे मुद्दे उठायेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस इन मुद्दों और विपक्षी दलों को खत्म करने की कोशिश को लेकर भगवा पार्टियों का मुकाबला करेगी। महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होंगे। मतगणना 24 अक्टूबर को होगी। चव्हाण ने कहा कि भले ही कुछ नेता कांग्रेस-राकांपा खेमे से चले गये हों लेकिन आम लोग हमारे साथ हैं।

इसे भी पढ़ें: शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ की बैठक, कहा- विकास कार्यो को जनता तक पहुंचाएं

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि हम विपक्ष को खत्म करने संबंधी सत्तारूढ़ पार्टी के तानाशाही रवैये को जनता के बीच उठायेंगे। इस बीच राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक ने विश्वास व्यक्त किया कि राज्य में सत्ता परिवर्तन होगा। उन्होंने कहा कि जैसी आशा थी, उसी के अनुसार चुनाव आयोग ने 21 अक्टूबर को मतदान कराने की घोषणा की। हमें उम्मीद है कि चुनाव आयोग और प्रशासन स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव करायेंगे जिसकी संविधान में सिफारिश की गयी है और आयोग ने उल्लेख किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा और शिवसेना को मतों के बंट जाने के कारण लोकसभा चुनाव में लाभ पहुंचा लेकिन लोगों को अब इसका अहसास हो गया है।

संयुक्त राष्ट्र महासभा का 74वां सत्र, पूरी जानकारी के लिए वीडियो देखें:>





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।