झूठ के सहारे कांग्रेस, पाकिस्तान में जीत सकती है चुनाव: राम माधव

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 24, 2019   17:02
झूठ के सहारे कांग्रेस, पाकिस्तान में जीत सकती है चुनाव: राम माधव

उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘देश में कोई भी नहीं समझ पा रहा है कि वह क्या कहना चाहती है और देश को किस दिशा में ले जाना चाहती है। लोग यह भी नहीं समझ पा रहे हैं कि कांग्रेस भारत के लिए लड़ रही है या पाकिस्तान के लिए।’’

गुवाहाटी। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने रविवार को कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस पाकिस्तान से चुनाव जीत सकती है, यदि वह वहां से लड़े क्योंकि विपक्षी पार्टी ‘‘झूठ और पड़ोसी देश का सहारा ले रही है।’’ माधव ने यह भी दावा किया कि कांग्रेस नेताओं के बयान उनके भारतीय समकक्षों से अधिक पाकिस्तान के लोगों द्वारा री ट्वीट किये जाते हैं। भाजपा नेता ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘उनकी टिप्पणियों को हमारे देश से अधिक पड़ोसी देश के लोगों द्वारा रीट्वीट और प्रचारित किया जाता है। कांग्रेस पाकिस्तान से चुनाव जीत सकती है, यदि वह वहां से लड़े। यह हमारी मुख्य विपक्षी पार्टी की स्थिति है।’’

भाजपा नेता ने कहा, ‘‘कांग्रेस के पास हमारी सरकार, हमारे नेता और हमारी पार्टी को घेरने के लिए कोई मुद्दा नहीं है। वह झूठ और पाकिस्तान के सहारे है।’’ उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘देश में कोई भी नहीं समझ पा रहा है कि वह क्या कहना चाहती है और देश को किस दिशा में ले जाना चाहती है। लोग यह भी नहीं समझ पा रहे हैं कि कांग्रेस भारत के लिए लड़ रही है या पाकिस्तान के लिए।’’

इसे भी पढ़ें: उमा भारती बोलीं, आडवाणी को स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए

माधव ने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेता भारतीय सेना की विश्वसनीयत पर ‘‘संदेह’’ कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि विपक्षी पार्टी न केवल भाजपा नीत सरकार की सफलता पर सवाल उठा रही है बल्कि सेना के बारे में ‘‘अपमानजनक टिप्पणी’’ भी कर रही है। कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा पर भाजपा के शीर्ष नेताओं को 1800 करोड़ रुपये की रिश्वत देने के आरोप के बारे में पूछे जाने पर माधव ने कहा, ‘‘यह फर्जी खबर है...कांग्रेस के पास आज कोई मुद्दा नहीं है और वह झूठ के सहारे है।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।