पुडुचेरी में गिरी कांग्रेस की सरकार, विधानसभा में नारायणसामी साबित नहीं कर पाए बहुमत

पुडुचेरी में गिरी कांग्रेस की सरकार, विधानसभा में नारायणसामी साबित नहीं कर पाए बहुमत

वी नारायणसामी ने कहा कि विधायकों को पार्टी के प्रति वफादार रहना चाहिए। इस्तीफा देने वाले विधायक लोगों का सामना नहीं कर पाएंगे क्योंकि लोग उन्हें अवसरवादी कहेंगे।

पुडुचेरी। पुडुचेरी में कांग्रेस नीत वाली वी नारायणसामी की सरकार गिर गई है। बता दें कि उपराज्यपाल टी सौंदरराजन ने एक दिन का विशेष सत्र बुलाया था। जिसमें वी नारायणसामी को बहुमत साबित करना था। लेकिन नारायणसामी बहुमत साबित नहीं कर पाए और कांग्रेस सरकार गिर गई।

इस दौरान नारायणसामी ने कहा कि हमने द्रमुक और निर्दलीय विधायकों के समर्थन से सरकार बनाई। उसके बाद हमने विभिन्न चुनावों का सामना किया। हमने सभी उपचुनाव जीते हैं। यह स्पष्ट है कि पुडुचेरी के लोग हम पर भरोसा करते हैं।  

इसे भी पढ़ें: पुडुचेरी विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, मुख्यमंत्री नारायणसामी ने पेश किया विश्वासमत प्रस्ताव 

विधायकों को होना चाहिए वफादार

बागी विधायकों के मसले पर वी नारायणसामी ने कहा कि विधायकों को पार्टी के प्रति वफादार रहना चाहिए। इस्तीफा देने वाले विधायक लोगों का सामना नहीं कर पाएंगे क्योंकि लोग उन्हें अवसरवादी कहेंगे।  

उल्लेखनीय है कि 33 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस-द्रमुक गठबंधन वाले विधायकों की संख्या घटकर 11 रह गई है। जबकि बहुमत के लिए 14 विधायकों की जरूरत है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।