गोवा में पार्टी विधायकों के दलबदल को कांग्रेस नेता ने राजनीतिक वेश्यावृत्ति करार दिया

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 12 2019 6:56PM
गोवा में पार्टी विधायकों के दलबदल को कांग्रेस नेता ने राजनीतिक वेश्यावृत्ति करार दिया
Image Source: Google

लोरेंको ने वर्तमान में कैबिनेट के सदस्य सरदेसाई और जीएफपी के दो अन्य विधायकों के भविष्य को लेकर अटकलों की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘‘कोई भी किसी से तब मिलता है, जब वह सत्ता में होता है।

पणजी। कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक ए रेजिनाल्डो लोरेंको ने अपनी पार्टी के विधायकों के सत्ताधारी भाजपा में दलबदल को शुक्रवार को ‘‘राजनीतिक वेश्यावृत्ति’’ करार दिया। विपक्ष के नेता चंद्रकांत कावलेकर के नेतृत्व में गोवा में कांग्रेस के 15 में से 10 विधायक बुधवार को भाजपा में शामिल हो गए। लोरेंको उन पांच विधायकों में से एक हैं जो कांग्रेस में बने हुए हैं। कांग्रेस 2017 के गोवा विधानसभा चुनाव के बाद अकेली सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी थी। लोरेंको ने मडगांव में गोवा फारवर्ड पार्टी (जीएफपी) के अध्यक्ष एवं उप मुख्यमंत्री विजय सरदेसाई से मुलाकात के बाद कहा, ‘‘जो इस बार हुआ है वह राजनीतिक वेश्यावृत्ति है।

इसे भी पढ़ें: भाजपा के पूर्व मंत्री का दावा, गोवा और कर्नाटक के बाद मध्य प्रदेश का भी मौसम बदलेगा

हम उसके बारे में बात नहीं कर सकते।’’ उन्होंने कहा कि सरदेसाई के साथ उनकी मुलाकात ‘‘अनौपचारिक’’ थी। सूत्रों ने बताया कि भाजपा में शामिल हुए बागी कांग्रेस विधायकों को समायोजित करने के लिए सरदेसाई और उनकी पार्टी के दो अन्य मंत्रियों को राज्य कैबिनेट से हटाया जा सकता है।’’ लोरेंको ने वर्तमान में कैबिनेट के सदस्य सरदेसाई और जीएफपी के दो अन्य विधायकों के भविष्य को लेकर अटकलों की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘‘कोई भी किसी से तब मिलता है, जब वह सत्ता में होता है। मैं उनसे तब मिल रहा हूं जब वह नहीं हैं।’’ कांग्रेस से टूटे विधायकों के भाजपा में विलय के बाद 40 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा का संख्याबल बढ़कर 27 हो गया है।  सूत्रों ने कहा कि चार नये मंत्रियों को शनिवार को शपथ दिलायी जाएगी।



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video