कांग्रेस नेता का बयान, भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को ढूंढकर लाने वाले को 10000 का इनाम मिलेगा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2021   17:48
कांग्रेस नेता का बयान, भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को ढूंढकर लाने वाले को 10000 का इनाम मिलेगा

कांग्रेस नेता रवि सक्सेना ने कोरोना महामारी के संकट के समय में अपनी भोपाल लोकसभा सीट से अनुपस्थित रहने वाली भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को ढूँढकर लाने वाले को 10,000 रूपये का इनाम देने की घोषणा की है।

भोपाल। कांग्रेस नेता रवि सक्सेना ने कोरोना महामारी के संकट के समय में अपनी भोपाल लोकसभा सीट से अनुपस्थित रहने वाली भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को ढूँढकर लाने वाले को 10,000 रूपये का इनाम देने की घोषणा की है। वहीं, प्रदेश भाजपा ने प्रज्ञा ठाकुर के खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए कांग्रेस नेता की इस घोषणा को शर्मनाक बताया है। प्रदेश कांग्रेस के महासचिव एवं वरिष्ठ प्रवक्ता रवि सक्सेना ने मंगलवार को कहा कि कोरोना महामारी के गहन संकट के समय भोपाल सांसद प्रज्ञा ठाकुर नदारद है।

इसे भी पढ़ें: केंद्र ने लगाया दिल्ली सरकार पर आरोप, ऑक्सीजन की खरीद के लिए जरूरी कदम केजरीवाल ने नहीं उठाएं

उन्होंने कहा, ‘‘भोपाल सांसद प्रज्ञा ठाकुर के इस संक्रमण काल में लगातार गायब रहने तथा भोपाल की जनता के इस विपत्ति काल में नदारद रहने पर मैं उन्हें ढूंढकर लाने वाले को 10,000 रुपयों का इनाम देने की घोषणा करता हूं।’’ सक्सेना ने कहा कि ये भोपालवासियों के लिए अत्यंत दुःख और दुर्भाग्य की बात है कि जब दवाइयों, इंजेक्शनों ,वेंटिलेटरों, बिस्तरों और समुचित इलाज के अभाव में हजारों कोरोना पीड़ित दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं और अपनी जान गंवा रहे हैं, ऐसे संकट के समय में सांसद प्रज्ञा ठाकुर कहां अंतर ध्यान में है।’’

इसे भी पढ़ें: उत्तराखंड में राजकीय मेडिकल कॉलेजों की क्षमता वृद्धि के लिए 10 करोड रूपये

मध्य प्रदेश भाजपा सचिव एवं प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘यह सबको पता है कि गंभीर रूप से बीमार होने पर प्रज्ञा को हवाई मार्ग से मुंबई ले जाया गया था। इसके वाबजूद कांग्रेस के नेता का ऐसा बयान शर्मनाक है।’’ उन्होंने कहा कि राजनीतिक दल होने के नाते कांग्रेस नेताओं में संवेदनशीलता होनी चाहिए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।