शिवसेना के प्रति कांग्रेस ने दिखाई एकजुटता, मातोश्री में उद्धव ठाकरे से की मुलाकात

Uddhav Thackeray
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
भले ही महाविकास अघाड़ी सरकार गिर गई हो... इसके बावजूद कांग्रेस ने गठबंधन धर्म निभाना जारी रखा है। शिवसेना के भीतर उपजे कलह के चलते एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में बागी एकजुट हुए और भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश कर रहे हैं। लेकिन कांग्रेस, एनसीपी अभी भी शिवसेना के साथ खड़ी है।

मुंबई। महाराष्ट्र की राजनीति का नया अध्याय लिखा जा रहा है। उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है और एकनाथ शिंदे पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ मिलकर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। इससे पहले एकनाथ शिंदे देवेंद्र फडणवीस के आवास पर पहुंचे हैं, जहां पर दोनों नेताओं के बीच बैठक हो रही है। इसी बीच कांग्रेस नेताओं और विधायकों ने उद्धव ठाकरे से मुलाकात की है। 

इसे भी पढ़ें: एकनाथ शिंदे पहुंचे मुंबई, फडणवीस संग राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का पेश करेंगे दावा 

आपको बता दें कि महाविकास अघाड़ी गठबंधन में शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस समेत कई दल शामिल हैं। ऐसे में अब यह दल विपक्ष की भूमिका निभाते हुए दिखाई देंगे। क्योंकि उद्धव ठाकरे न तो सरकार बचा पाने में कामयाब हुए हैं और न ही बागी विधायकों को वापस से अपने पाले में लाने में... ऐसे में शिवसेना सांसद और नेता संजय राउत ने पहले ही स्पष्ट कर दिया कि हम विपक्ष में बैठने के लिए तैयार हैं। 

इसे भी पढ़ें: 'साम-दाम, दंड-भेद के जरिए सरकार गिराने में जुटी थी भाजपा', भूपेश बघेल बोले- विपक्ष को बर्दाश्त नहीं कर पा रही पार्टी 

उद्धव के प्रति कांग्रेस ने दिखाई एकजुटता

भले ही महाविकास अघाड़ी सरकार गिर गई हो... इसके बावजूद कांग्रेस ने गठबंधन धर्म निभाना जारी रखा है। शिवसेना के भीतर उपजे कलह के चलते एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में बागी एकजुट हुए और भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश कर रहे हैं। लेकिन कांग्रेस, एनसीपी अभी भी शिवसेना के साथ खड़ी है। ऐसे में महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं और विधायकों ने मातोश्री में उद्धव ठाकरे से मुलाकात की। इस दौरान आदित्य ठाकरे भी मौजूद रहे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़