मोदी की आलोचना पर माकपा नेता क्यों नाराज हो जाते हैं: कांग्रेस

VD Satheesan
प्रतिरूप फोटो
ANI
कांग्रेस ने अपनी ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की आलोचना के लिए बृहस्पतिवार को सत्तारूढ़ माकपा पर निशाना साधा और पूछा कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फासीवादी विचारधाराओं से सवाल पूछे जाते हैं तो वामपंथी नेता नाराज क्यों हो जाते हैं।

कांग्रेस ने अपनी ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की आलोचना के लिए बृहस्पतिवार को सत्तारूढ़ माकपा पर निशाना साधा और पूछा कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फासीवादी विचारधाराओं से सवाल पूछे जाते हैं तो वामपंथी नेता नाराज क्यों हो जाते हैं। राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता वी डी सतीशन ने मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) पर निशाना साधते हुए पूछा कि वे पदयात्रा में शामिल पार्टी नेता राहुल गांधी और अन्य नेताओं के कंटेनरों में ठहरने पर उनकी आलोचना क्यों कर रहे हैं।

उन्होंने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि माकपा नेताओं के परिजन भी पदयात्रा में शामिल लोगों का स्वागत करने आ रहे हैं और क्या इसी बात से वामपंथी नेता परेशान हैं। सतीशन ने कहा कि ‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर लोकतंत्र समर्थकों और जनता की अच्छी प्रतिक्रिया आ रही है और यह सफल होगी। उन्होंने कहा, ‘‘यात्रा माकपा के खिलाफ नहीं निकाली जा रही। यह भारत को जोड़ने के विचार पर आधारित है। फासीवाद और सांप्रदायिकता की आलोचना हो रही है। मोदी और फासीवादी तथा सांप्रदायिक विचारधारा की आलोचना होती है तो माकपा नेता क्यों नाराज हो जाते हैं?’’

उन्होंने कहा कि इस पदयात्रा के एजेंडे में मुख्यमंत्री पिनराई विजयन या माकपा दोनों में से कोई नहीं है। भाजपा शासित उत्तर प्रदेश की तुलना में वाम के शासन वाले केरल में कांग्रेस की यात्रा के अधिक दिन ठहरने संबंधी आलोचनाओं के जवाब में नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि यात्रा का मार्ग कांग्रेस तय करती है, ना कि एकेजी सेंटर जो कि यहां माकपा का मुख्यालय है। सतीशन ने विजयन और उनके कैबिनेट सहयोगियों की आगामी विदेश यात्राओं की भी आलोचना की और आरोप लगाया कि वे अपनी पिछली यात्राओं के माध्यम से राज्य में कोई बड़ा निवेश नहीं ला सके।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़