कांग्रेस ने लगाई मजदूर पंचायत, कहा- कोई नया सम्मानित रोजगार नहीं दिया गया

ajay kumar lallu
उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक भी मजदूर को उसकी योग्यता में इजाफा करते हुए कोई नया सम्मानित रोजगार नहीं दिलाया।

लखनऊ। कांग्रेस ने शुक्रवार को भाजपा सरकार द्वारा शुरू किए गए आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान के तहत अन्य प्रदेशों से लौटे मजदूरों को रोजगार देने के ऐलान को ‘झूठ का पुलिंदा’ करार दिया। प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने पार्टी मुख्यालय पर आयोजित श्रमिक महापंचायत में आरोप लगाया कि मौजूदा सरकार ने एक भी मजदूर को रोजगार नहीं दिया है और मजदूर, गरीब विरोधी योगी सरकार मजदूरों को धोखा दे रही है। लल्लू ने दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक भी मजदूर को उसकी योग्यता में इजाफा करते हुए कोई नया सम्मानित रोजगार नहीं दिलाया। 

इसे भी पढ़ें: UP के लिए PM मोदी का आत्मनिर्भर मंत्र, 1.25 करोड़ लोगों को रोजगारी की 'गारंटी' वाली खुशखबरी 

उन्होंने कहा कि भैंस पालना, लौकी सहजन बेचना, राजमिस्त्री आदि का काम तो लोग पहले से करते आ रहे हैं। यह कौन सी उपलब्धि है जो सरकार गिना रही है? प्रदेश का मजदूर चाहता था कि उसके कौशल को किसी संगठित उद्योग धंधे में लगाया जाए। उत्तर प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष पंकज मलिक ने आरोप लगाया कि योगी और उनके नौकरशाह पहले से लिखी पटकथा लेकर कई दिनों से गरीब मजदूरों के साथ रिहर्सल कर रहे थे। रोजी खो चुके मजदूर के साथ इससे भद्दा मजाक क्या होगा? मौजूदा सरकार गरीब और श्रमिक विरोधी है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़