विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटी कांग्रेस, अब हर गांव में नियुक्त करेगी अध्यक्ष

विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटी कांग्रेस, अब हर गांव में नियुक्त करेगी अध्यक्ष

प्रियंका गांधी का लक्ष्य तो साल 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में सत्ता हासिल करने का है और वह इसकी तैयारियों में भी जुट गई हैं। इसके तहत उत्तर प्रदेश के हर गांव में जल्द ही पार्टी की इकाई का गठन किया जाएगा।

लखनऊ। देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस भले ही नेतृत्व संकट से जूझ रही हो और उसे अभी तक कोई अध्यक्ष न मिल पाया हो लेकिन वह उत्तर प्रदेश में खुद को मजबूत करने के लिए हर गांव में पार्टी अध्यक्ष की नियुक्ति करेगी। कांग्रेस को यह बात तो समझ में आ गई है कि उत्तर प्रदेश से ही केंद्र का रास्ता साफ होगा और इसके लिए पार्टी पिछले कुछ समय से काम भी करती हुई नजर आ रही है।

कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा लगातार प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को हर मुद्दे पर घेरने का प्रयास करती हैं। इसके लिए वह आज के समय के सबसे पॉवरफुल प्लेटफॉर्म ट्विटर का इस्तेमाल करती हैं। ऐसा कोई दिन नहीं होता होगा जब वह भाजपा को घेरने के लिए ट्वीट न करती हो। 

इसे भी पढ़ें: UP में महिला सुरक्षा की स्थिति हो चुकी है खराब, प्रियंका ने राज्यपाल से संज्ञान लेने का किया आग्रह 

घर-घर जाएंगे कांग्रेस कार्यकर्ता

प्रियंका गांधी का लक्ष्य तो साल 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में सत्ता हासिल करने का है और वह इसकी तैयारियों में भी जुट गईं हैं। इसी के तहत अब उत्तर प्रदेश के हर गांव में जल्द ही पार्टी की इकाई का गठन होगा और हर गांव में एक अध्यक्ष और उसके 10-15 एक्टिव सदस्य नियुक्त किए जाएंगे। जो घर-घर जाकर पंजे को मजबूत करने का काम करेंगे।

जब से प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश की राजनीति में एक्टिव हुईं हैं तब से उन्होंने पार्टी को धीरे-धीरे मजबूत बनाने की दिशा में काम किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रियंका गांधी ने पहले प्रदेश की जंबो कमिटी को निरस्त कर दिया और फिर छोटी-छोटी टीम बनाई। इसके साथ ही उन्होंने उत्तर प्रदेश को भी दो हिस्सों में बांट दिया ताकि जल्द-से-जल्द हर घर तक पहुंचा जा सके।

इसे भी पढ़ें: UP में पिछले 3 महीनों में 3 पत्रकारों की हत्या: योगी सरकार पर बरसीं प्रियंका गांधी 

प्रियंका गांधी यह तो समझ गईं हैं कि आज के वक्त में युवाओं को तवज्जो देना बहुत जरूरी है और उन्होंने इस दिशा की तरफ भी ध्यान दिया। इसके साथ ही उन्होंने जिला और शहर में अध्यक्ष की तैनाती को गति दे दी। कोशिश यही है कि सितंबर के दूसरे सप्ताह तक ब्लॉक अध्यक्षों की तैनाती हो सके। इसके लिए पदाधिकारी ब्लॉक-ब्लॉक जाकर बैठकें कर रहे हैं और हर ब्लॉक से तकरीबन 2 से 3 नाम पैनल हाईकमान को भेजेंगे ताकि अध्यक्ष पद के लिए सही व्यक्ति को चुना जा सके। 

कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री वीरेंद्र सिंह गुड्डू ने बताया कि सितंबर के दूसरे हफ्ते तक ब्लॉक अध्यक्ष नियुक्त कर दिए जाएंगे। जिसके बाद हर गांव में एक अध्यक्ष की तैनाती की जाएगी। अध्यक्ष के साथ 10-15 एक्टिव कार्यकर्ता रहेंगे जो गांव में पार्टी संगठन को मजबूत करने का काम करेंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।