धर्मनिरपेक्ष बलों का व्यापक गठबंधन बनाएगी कांग्रेस: गोगोई

तरूण गोगोई ने आज कहा कि कांग्रेस राज्य में सभी धर्मनिरपेक्ष बलों के एक वृहद गठबंधन पर काम करना शुरू करेगी क्योंकि बंटा हुआ विपक्ष भाजपा के विजय रथ को रोकने में सक्षम नहीं होगा।

गुवाहाटी। असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई ने आज कहा कि कांग्रेस राज्य में सभी धर्मनिरपेक्ष बलों के एक वृहद गठबंधन पर काम करना शुरू करेगी क्योंकि बंटा हुआ विपक्ष भाजपा के विजय रथ को रोकने में सक्षम नहीं होगा। कांग्रेस के नेता ने यह भी कहा कि वह भाजपा की सत्ताधारी सहयोगी असम गण परिषद के साथ गठबंधन करने के विचार पर भी तैयार हैं। उन्होंने कहा, ‘‘विपक्ष बंटा हुआ है, इसीलिए भाजपा और नरेंद्र मोदी चुनाव जीत रहे हैं। ऐसे समय पर हमें एकजुट होना चाहिए।’’

गोगोई ने कहा, ‘‘मैंने सोनिया गांधी को इस बारे में बता दिया है। सांप्रदायिक ताकतों को रोकने के लिए हमें यहां-वहां छोटे मुद्दों पर समझौते करने होंगे।’’ विपक्ष को एकजुट करने के कांग्रेस अध्यक्ष के प्रयासों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि सांप्रदायिक ताकतों को रोकने के लिए गठबंधन धर्मनिरपेक्षता, लोकतांत्रिक मूल्यों, सहिष्णु प्रथाओं और भारत के एक समान सोच रखने वाले दलों की उदारवादी नीतियों पर आधारित होना चाहिए। गोगोई ने कहा, ‘‘नरेंद्र मोदी ‘वन मैन शो’ (व्यक्ति केंद्रित सत्ता) चला रहे हैं। संघवाद दांव पर लगा है। आप किसी व्यक्ति को कुछ समय के लिए ही मूर्ख बना सकते हैं, हमेशा नहीं।’’ उन्होंने इस बात की आशा जताई कि भविष्य में विपक्ष एकजुट होगा।

आपातकाल का उदाहरण देते हुए गोगोई ने कहा, ‘‘आप आपातकाल का उदाहरण लीजिए। इंदिरा गांधी बेहद सशक्त नेता थीं लेकिन देशभर में पूरा विपक्ष उनके खिलाफ एकजुट हो गया था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यहां तक कि माकपा और भाजपा ने भी केंद्र में वीपी सिंह सरकार (1989 में) को समर्थन दिया था।’’

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़