तेलंगाना में कोरोना के मामले सितंबर के अंत तक हो सकते हैं कम, रोजाना 40 हजार से अधिक लोगों की हो रही जांच

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 25, 2020   18:19
तेलंगाना में कोरोना के मामले सितंबर के अंत तक हो सकते हैं कम, रोजाना 40 हजार से अधिक लोगों की हो रही जांच

लोक स्वास्थ्य निदेशक डॉक्टर जीएस श्रीनिवास राव ने कहा, ‘‘हमने जीएचएमसी क्षेत्र में मामलों को नियंत्रित किया है। और सितंबर तक पूरे राज्य में संक्रमण के संबंध में स्थिति नियंत्रण में होगी।’’

हैदराबाद। तेलंगाना स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राज्य में कोविड-19 मरीजों का पता लगाने के लिए इस महीने अब तक पांच लाख से ज्यादा जांच हुई हैं और सितंबर के अंत तक संक्रमण के मामलों में कमी आने की संभावना है। लोक स्वास्थ्य निदेशक डॉक्टर जीएस श्रीनिवास राव ने कहा कि तेलंगाना के ग्रामीण क्षेत्रों में भले ही कोविड-19 के मामले बढ़े हैं लेकिन ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) क्षेत्र में मामलों में कमी आ रही है और आने वाले दिनों में इसके और कम होने की संभावना है। उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हमने पहले भी कहा था कि जीएचएमसी क्षेत्र में अगस्त के अंत तक धीरे-धीरे मामलों में कमी आएगी। हमने यह भी कहा था कि कहीं मामले बढ़ेंगे भी। तेलंगाना के ग्रामीण इलाकों में सितंबर अंत तक मामले नियंत्रण में होंगे। इसकी संभावना है।’’ 

इसे भी पढ़ें: कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डी के शिवकुमार कोरोना वायरस से संक्रमित, दो दिनों से पीठ में था दर्द 

श्रीनिवास ने कहा, ‘‘हमने जीएचएमसी क्षेत्र में मामलों को नियंत्रित किया है। और सितंबर तक पूरे राज्य में संक्रमण के संबंध में स्थिति नियंत्रण में होगी।’’ उन्होंने बताया कि तेलंगाना में अभी 23,737 मरीज हैं। यहां स्वस्थ होने की दर 80 फीसदी और मृत्यु दर राष्ट्रीय स्तर के 1.8 फीसदी के मुकाबले 0.7 फीसदी है। उनके अनुसार राज्य में 24 अगस्त के आंकड़ों के अनुसार संक्रमण के लक्षण नहीं दिखने वाले 17,226 मरीज घर में पृथकवास में हैं और 6,511 मरीजों का इलाज सरकारी या निजी अस्पताल में चल रहा है। अधिकारी ने बताया कि पिछले चार दिनों से यहां रोजाना 40,000 से ज्यादा जांच हो रही हैं और अब तक राज्य में कुल 10,21,054 जांच की जा चुकी है जिनमें से अगस्त में अब तक पांच लाख से ज्यादा जांच हुई हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।