• कोरोना संकट के दौर में PM मोदी ने दिया भरोसा, मॉरीशस, सेशेल्स को हर संभव मदद मुहैया कराएगा भारत

मोदी मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रवीण जगन्नाथ और सेशेल्स के राष्ट्रपति डैनी फॉरे के ट्वीट का जवाब देते हुए हर मदद का भरोसा दिया। दोनों देशों ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए अपने देशों को चिकित्सा खेप भेजने के लिए भारत को धन्यवाद दिया।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत और मॉरीशस हमेशा एकदूसरे के साथ खड़े रहेंगे, विशेष तौर पर कोविड-19 महामारी की तरह के चुनौतीपूर्ण समय में।  प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि भारत कोविड-19 से मुकाबले के लिए सेशल्स को हर संभव सहायता प्रदान करेगा। मोदी मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रवीण जगन्नाथ और सेशेल्स के राष्ट्रपति डैनी फॉरे के ट्वीट का जवाब दे रहे थे, जिसमें उन्होंने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए अपने देशों को चिकित्सा खेप भेजने के लिए भारत को धन्यवाद दिया गया था।

इसे भी पढ़ें: धर्मेंद्र प्रधान का दावा, गरीबों को डेढ़ करोड़ एलपीजी सिलेंडर नि:शुल्क दिए गए

मोदी ने ट्वीट किया, प्रधानमंत्री प्रवीण जगन्नाथ आपके नम्र शब्दों के लिए आपका धन्यवाद। भारत और मॉरीशस इतिहास, संस्कृति, और हिंद महासागर से एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। हम हमेशा एक दूसरे के साथ खड़े रहेंगे, खासकर इस तरह के चुनौतीपूर्ण समय में।’’

मोदी प्रधानमंत्री जगन्नाथ के उस ट्वीट का जवाब दे रहे थे जिसमें उन्होंने आपूर्ति के लिए भारत को धन्यवाद दिया था। जगन्नाथ ने ट्वीट किया था, ‘‘मैं भारत सरकार से चिकित्सा आपूर्ति के उदार दान के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का बहुत आभारी हूं, जो कल बुधवार, 15 अप्रैल को मॉरीशस पहुंची।’’ इसे भी पढ़ें: संकटमोचक बना भारत, कोरोना प्रभावित 55 देशों को भेज रहा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन

राष्ट्रपति फॉरे के कार्यालय ने भी ट्वीट करके भारत को चिकित्सकीय खेप भेजने के लिए धन्यवाद दिया था।

मोदी ने जवाब में कहा, ‘‘राष्ट्रपति डैनी फॉरे के उनके नम्र शब्दों के लिए आभारी हैं। सेशेल्स हमारे हिंद महासागर परिवार का एक महत्वपूर्ण सदस्य है और क्षेत्र में सभी के लिए सुरक्षा और प्रगति की हमारी दृष्टि का एक महत्वपूर्ण स्तंभ है।’’ उन्होंने कहा कि भारत कोविड-19 से मुकाबले के लिए सेशेल्स को हर संभव सहायता प्रदान करेगा।