वैक्सीन की कमी के बीच में बर्बाद हो रही डोज ! डस्टबिन में मिलीं वायल, भाजपा ने गहलोत सरकार को घेरा

वैक्सीन की कमी के बीच में बर्बाद हो रही डोज ! डस्टबिन में मिलीं वायल, भाजपा ने गहलोत सरकार को घेरा
प्रतिरूप फोटो

भाजपा के आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने वैक्सीन की बर्बादी का मामला उड़ाया। उन्होंने ट्वीट किया कि राजस्थान में कोविड के टीके कचरे के डिब्बों में फेंके जा रहे हैं।

जयपुर। कोरोना महामारी की दूसरी लहर में वैक्सीन की कमी के चलते सेंटरों को बंद करना पड़ रहा है। लेकिन एक ऐसी जानकारी सामने आई है जो आप लोगों के होश उड़ा देगी। यह जानकारी वैक्सीन की कमी के बीच में वैक्सीन की बर्बादी की है। जहां एक तरफ देशवासियों को वैक्सीन नहीं लग पा रही है। वहीं दूसरी तरफ राजस्थान में वैक्सीन की बर्बादी देखी गई है। 

इसे भी पढ़ें: भारत बायोटेक ने कहा, टीका बनने से लेकर लगाने में चार माह का समय लगता है 

हिन्दी समाचार पत्र दैनिक भास्कर के मुताबिक राजस्थान के 8 जिलों के 35 वैक्सीनेशन सेंटरों की डस्टबिन में 500 वायल मिले हैं। आपको बता दें कि एक वायल में 10 डोज होते हैं। लेकिन खबर के मुताबिक डस्टबिन में मिली 500 वायल में तकरीबन 2,500 से ज्यादा डोज मौजूद हैं। इतना ही नहीं 500 से ज्यादा वायल में 20 से 75 फीसदी तक भरे हुए हैं। जैसे ही यह जानकारी सामने आई भाजपा ने अशोक गहलोत सरकार पर जमकर निशाना साधा है।

बर्बाद हो रही वैक्सीन

भाजपा के आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने वैक्सीन की बर्बादी का मामला उड़ाया। उन्होंने ट्वीट किया कि राजस्थान में कोविड के टीके कचरे के डिब्बों में फेंके जा रहे हैं। एक तरफ राहुल गांधी वैक्सीन को लेकर रोज नसीहत देते हैं, दूसरी तरफ कांग्रेस की सरकारों में टीके बर्बाद किए जा रहें हैं। झारखंड, छत्तीसगढ़ और राजस्थान इसकी मिसाल हैं। कांग्रेस कोविड के खिलाफ लड़ाई को कमजोर कर रही है।

इसे भी पढ़ें: वैक्सीन को लेकर केंद्र से तकरार, सुप्रीम कोर्ट जाएगी राजस्थान सरकार 

उल्लेखनीय है कि अशोक गहलोत सरकार लगातार केंद्र सरकार पर लगातार आरोप लगा रही है कि जितनी वैक्सीन की हम मांग कर रहे हैं केंद्र सरकार उसकी एक चौथाई भी हमें नहीं दे रही है। जिसके चलते हमें सेंटरों को बंद करना पड़ रहा है। जबकि वैक्सीन की बर्बादी का मामला किसी से छिपा नहीं है। केंद्र सरकार की एक रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में 16 जनवरी से लेकर 17 मई के बीच में 11 लाख 50 हजार से ज्यादा कोरोना वैक्सीन की डोज बर्बाद हुई है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।