केरल में कोरोना के एक दिन में सबसे ज्यादा 195 नए मामले आए सामने, संक्रमितों की संख्या चार हजार के पार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 27, 2020   21:57
केरल में कोरोना के एक दिन में सबसे ज्यादा 195 नए मामले आए सामने, संक्रमितों की संख्या चार हजार के पार

स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक, इस समय केरल में 1,939 मरीज उपचाराधीन हैं। उन्होंने बताया कि इस समय 1,67,978 लोग निगरानी में हैं।

तिरुवनंतपुरम। केरल में शनिवार को एक दिन में अब तक के सबसे अधिक 195 नये मामले सामने आए। इसके साथ ही राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4,071 हो गई। उल्लेखनीय है कि केरल में गत नौ दिनों से रोजाना कोरोना वायरस से संक्रमण के करीब 100 से अधिक नये मामले सामने आ रहे हैं। राज्य में करीब एक लाख 67 हजार लोगों को निगरानी में रखा गया है। केरल की स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने विज्ञप्ति में बताया कि मलाप्पुरम में सबसे अधिक 47 नये मामले सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि इसके अलावा पल्लकड़ में 25, त्रिशूर में 22, कोट्टायम में 15 और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। 

इसे भी पढ़ें: केरल CM के चीन की घुसपैठ पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देने पर कांग्रेस ने उठाए सवाल 

शैलजा ने बताया कि इसके अलावा एर्नाकुलम में 14, अलपुझा में 13, कोल्लम में 12, कन्नूर-कासरगोड में 11-11, कोझिकोड में आठ, पथनमथिट्टा में छह, वायनाड में पांच, तिरुवनंतपुरम में चार और इडुकी में दो नये मामले सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि केरल में अबतक 22 लोगों की मौत कोविड-19 की वजह से हुई है। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि नये संक्रमितों में से 118 विदेश से लौटे हैं। उन्होंने बताया कि 62 संक्रमित कुवैत से, 26 संक्रमित संयुक्त अरब अमीरात से , आठ संक्रमित सऊदी अरब से वापस आए हैं। उन्होंने बताया कि नये कोविड-19 मरीजों में 62 दूसरे राज्यों से आए हैं जिनमें 19 तमिलनाडु से, 13 दिल्ली से और 11 महाराष्ट्र से आए लोग शामिल हैं।

शैलजा ने बताया कि 15 मामले संक्रमितों के संपर्क में आने की वजह से हुए हैं जिनमें 10 मामले अकेले मलाप्पुरम के हैं। उन्होंने बताया कि अबतक 2,108 मरीज ठीक हो चुके हैं जिनमें से 102 लोगों को संक्रमण मुक्त होने के बाद आज अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक, इस समय केरल में 1,939 मरीज उपचाराधीन हैं। उन्होंने बताया कि इस समय 1,67,978 लोग निगरानी में हैं जिनमें से 1,65,515 लोगों को गृह या संस्थागत पृथकवास में रखा गया है जबकि 2,463 लोगों को विभिन्न अस्पतालों के पृथक वार्ड में भर्ती किया गया है। केरल में कोविड-19 के मामलों में तेजी आने के साथ सरकार ने जांच में वृद्धि की है। मं 

इसे भी पढ़ें: केरल के स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ की गई टिप्पणी पर रामचंद्रन कायम, बोले- माफी मांगने का सवाल नहीं 

त्री के मुताबिक, गत 24 घंटे में जांच के लिए 6,166 नमूने भेजे गए। विज्ञप्ति के मुताबिक, अबतक राज्य में करीब एक लाख 15 हजार नमूनों को जांच के लिए भेजा गया है जिनमें से 4,032 नमूनों के नतीजों का इंतजार है। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इसके अलावा प्रहरी निगरानी के तहत स्वास्थ्य और प्रवासी कामगारों, अधिक सामाजिक संपर्क वाले लोगों के 44, 129 नमूने जांच के लिए भेजे गए जिनमें से 42,411नमूनों की रिपोर्ट निगेटिव आई। विज्ञप्ति के मुताबिक, पलक्कड़ जिले में सबसे अधिक 260 मामले सामने आए हैं। इसके बाद मलाप्पुरम में 218, कोल्लम में 180, एर्नाकुलम में 167, पथनमथिट्टा में 166, अलपुझा में 161 और कन्नूर में 152 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है।

इस बीच राज्य सरकार ने लॉकडाउन संबंधी पाबंदियों को रविवार को अगले आदेश तक स्थगित करने का फैसला किया है। इस संबंध में मुख्य सचिव डॉ.विश्वास मेहता ने आदेश जारी किया। हालांकि, आदेश में स्पष्ट किया गया है कि सप्ताह के सातों दिन रात नौ बजे से सुबह पांच तक लागू रात्रि कर्फ्यू लागू रहेगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।