Rapid Rail Speed: रफ्तार भरने को तैयार देश की पहली रैपिड रेल, स्‍पीड जानकर रह जाएंगे हैरान

Rapid Rail
Twitter @HardeepSPuri
अंकित सिंह । Jan 19, 2023 2:51PM
रैपिड रेल चलने से दोनों शहरों की दूरी महज 55 मिनट में पूरा किया जा सकता है। रैपिड रेल को लेकर पहले भी परीक्षण हुआ था। लेकिन तब ट्रेन 25 किलोमीटर प्रति घंटे की धीमी रफ्तार से चली थी। इस बार हाई स्पीड ट्रायल किया गया है।

देश में जल्द ही रैपिड रेल की शुरुआत होने जा रही है। इसका इंतजार महज 2 महीने का रह गया है। मार्च से रैपिड रेल अपनी रफ्तार भरने को तैयार है। इसको लेकर जो तैयारियां की जानी थी, वह मुकम्मल है। रैपिड रेल का पहला ट्रायल पूरी तरह से सफल रहा है। यह ट्रेन 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ने में कामयाब रही। वहीं, इसकी अधिकतम रफ्तार 180 किलोमीटर प्रति घंटा रहने वाली है। रैपिड रेल मेरठ और दिल्ली के बीच चलेगी। रैपिड रेल चलने से दोनों शहरों की दूरी महज 55 मिनट में पूरा किया जा सकता है। रैपिड रेल को लेकर पहले भी परीक्षण हुआ था। लेकिन तब ट्रेन 25 किलोमीटर प्रति घंटे की धीमी रफ्तार से चली थी। इस बार हाई स्पीड ट्रायल किया गया है।

इसे भी पढ़ें: Budget 2023: रेलवे को बड़ा तोहफा दे सकती है मोदी सरकार, बजट में कई नई ट्रेनों का हो सकता है ऐलान

हालांकि, एनसीआरटीसी ने अभी भी कहा है कि यह आधिकारिक ट्रायल नहीं था। इसकी घोषणा जल्द की जाएगी। रैपिड रेल के कोच गुजरात के सावली स्थित अल्स्टोम कंपनी के प्लांट में तैयार किया जा रहा है। साहिबाबाद से मेरठ रोड तिहारा स्टेशन तक 25 केवीए की ओवर हेड इक्विपमेंट लाइन चार्ज होने के बाद पूरे एलिवेटेड कॉरिडोर पर रैपिड रेल को दौराई गई। इसका पहला परीक्षण 3 जनवरी को हुआ था जबकि 17 जनवरी को यह रेल 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ लगाई। 

इसे भी पढ़ें: Vande Bharat Express | रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने की वंदे भारत एक्सप्रेस की तारीफ, कहा- डिजाइन हवाई जहाज से बेहतर

इस परियोजना में शामिल सभी इंजीनियरों के लिए यह पहला अनुभव था। पहली बार रैपिड रेल को इतनी तेज गति से दौराई गई थी। फिलहाल दुहाई डिपो से साहिबाबाद तक एचबी वायर का काम पूरा हो गया है। पहले फेज में साहिबाबाद से दुहाई डिपो के बीच रैपिड रेल का संचालन मार्च 2023 में होना है। इसको लेकर सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी है। पहले फेज में कुल 5 स्टेशन हैं। साहिबाबाद, गाजियाबाद, गुलधर, दुहाई और दुहाई डिपो। इसके स्टेशन भी बनकर तैयार हो चुके हैं। फिलहाल फिनिशिंग का काम जारी है। 

अन्य न्यूज़