महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि, पवार ने सभी सार्वजनिक कार्यक्रम रद्द किये

Pawar
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार ने सोमवार को कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि को देखते हुए पहले से तय अपने सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों को रद्द कर दिया है।

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार ने सोमवार को कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि को देखते हुए पहले से तय अपने सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों को रद्द कर दिया है। महाराष्ट्र में रविवार को कोविड-19 के 6,971 मामले आये जिससे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 21,00,884 हो गयी। आधिकारिक आंकड़े के अनुसार राज्य में रविवार को संक्रमण से 35 लोगों की मौत हुई जिससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 51,788 हो गयी।

इसे भी पढ़ें: एल्गार मामला : हाई कोर्ट ने वरवरा राव को 6 महीने के लिए अंतरिम जमानत दी

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को कहा कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर सोमवार से राज्य में धार्मिक, सामाजिक एवं राजनीतिक कार्यक्रमों में लोगों के समूह में एकत्रित होने पर रोक रहेगी। राकांपा राज्य में सत्तारूढ़ महा विकास आघाड़ी (एमवीए) की सहयोगी है। पवार ने ट्वीट किया, ‘‘कोविड-19 के मामलों में वृद्धि और माननीय मुख्यमंत्री एवं उपमुख्यमंत्री की अपील के मद्देनजर मैंने पूर्वनियोजित अपने सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों को रद्द कर दिया है।’’

इसे भी पढ़ें: बेसुध होकर बिस्तर पर पड़े हैं पद्म श्री के लिए चुने गए मोहम्मद शरीफ, परिवार को मदद का इंतजार

इससे पहले राकांपा सांसद सुप्रिया सुले ने भी मुख्यमंत्री एवं उपमुख्यमंत्री अजित पवार की अपील पर 22 फरवरी और सात मार्च के बीच अपने सभी तयशुदा कार्यक्रमों को रद्द कर दिया। महाराष्ट्र के उच्चतर एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने भी सोमवार को तय अपना सार्वजनिक कार्यक्रम रद्द कर दिया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़