उत्तर प्रदेश में बढ़ रहा है कोरोना वायरस से मौत का आंकड़ा, 24 घंटे में 298 लोगों की मौत, 35156 नए मरीज

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 29, 2021   17:16
उत्तर प्रदेश में बढ़ रहा है कोरोना वायरस से मौत का आंकड़ा, 24 घंटे में 298 लोगों की मौत, 35156 नए मरीज

उत्तर प्रदेश में बृहस्पतिवार को कोविड-19 संक्रमण से मरने वाले लोगों की संख्या एक नई ऊंचाई पर पहुंच गई। पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में इस वायरस से रिकॉर्ड 298 और लोगों की मौत हो गई तथा 35156 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में बृहस्पतिवार को कोविड-19 संक्रमण से मरने वाले लोगों की संख्या एक नई ऊंचाई पर पहुंच गई। पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में इस वायरस से रिकॉर्ड 298 और लोगों की मौत हो गई तथा 35156 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कोविड-19 संक्रमित 298 और मरीजों की मौत हो गई। यह प्रदेश में एक दिन में इस संक्रमण से होने वाली मौतों का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। राज्य में अब तक कोविड-19 संक्रमण से 12241 मरीजों की मौत हो चुकी है।

इसे भी पढ़ें: नेपाली सेना को मोटिवेट करेंगे जनरल बिपिन रावत, आधिकारिक यात्रा का मिला निमंत्रण

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बृहस्पतिवार को बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 35156 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई।

इसे भी पढ़ें: मिलिए भारतवंशी विनय रेड्डी से, जिनका लिखा भाषण अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडेन ने पढा

वहीं, इस अवधि में 25613 मरीज ठीक भी हुए हैं। प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में इस वक्त 309237 मरीजों का इलाज किया जा रहा है राज्य में अब तक कुल 1217955 लोगों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है जिनमें से 896477 पूरी तरह ठीक हो चुके हैं उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 225000 से ज्यादा नमूनों की जांच की गई। राज्य में अब तक चार करोड़ से ज्यादा नमूनों की जांच की जा चुकी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।