त्रिपुरा में कानून व्यवस्था की गंभीर स्थिति पर माकपा ने चुनाव आयोग से चिंता जताई

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 17 2019 7:10PM
त्रिपुरा में कानून व्यवस्था की गंभीर स्थिति पर माकपा ने चुनाव आयोग से चिंता जताई
Image Source: Google

माकपा पोलित ब्यूरो के सदस्य नीलोत्पल बसु ने मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को पत्र लिखकर कहा है कि वामदलों के कार्यकर्ताओं को भाजपा नेता न सिर्फ धमका रहे हैं बल्कि चुनाव प्रक्रिया में भी बाधा पहुंचाने के लगातार प्रयास कर रहे हैं।

नयी दिल्ली। माकपा ने त्रिपुरा में कानून व्यवस्था के नाजुक हालात का हवाला देते हुये चुनाव आयोग द्वारा इस दिशा में सकारात्मक कदम उठाये जाने के बावजूद राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा कार्यकर्ताओं की अराजक गतिविधियां अभी जारी रहने की आयोग से शिकायत की है। माकपा पोलित ब्यूरो के सदस्य नीलोत्पल बसु ने बुधवार को मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को पत्र लिखकर कहा है कि वामदलों के कार्यकर्ताओं को भाजपा नेता न सिर्फ धमका रहे हैं बल्कि चुनाव प्रक्रिया में भी बाधा पहुंचाने के लगातार प्रयास कर रहे हैं। बसु ने राज्य की पूर्वी त्रिपुरा संसदीय सीट पर चुनाव प्रचार के दौरान अराजकता की शिकायतों पर आयोग द्वारा संज्ञान लेकर उठाये गये कदमों की सराहना करते हुये इस सीट पर आगामी 23 अप्रैल को निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतदान संपन्न होने की उम्मीद जतायी। 

इसे भी पढ़ें: पश्चिमी त्रिपुरा लोकसभा सीट के 464 मतदान केंद्रों पर पुनर्मतदान हो: माकपा

उल्लेखनीय है कि चुनाव आयोग ने पूर्वी त्रिपुरा संसदीय क्षेत्र में गड़बड़ियों की शिकायतों के आधार पर इस सीट पर 18 अप्रैल को होने वाले मतदान को 23 अप्रैल के लिये स्थगित कर दिया था। बसु ने त्रिपुरा पश्चिमी सीट पर पहले चरण के मतदान के दौरान विभिन्न मतदान केन्द्रों के 464 बूथ पर गड़बड़ी की शिकायतों के मद्देनजर इन पर फिर से मतदान कराने की मांग की है।



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video