प्रवासी प्रबंधन के रोड मैप का श्रेय नीतीश कुमार को जाता है: राजीव रंजन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 26, 2020   15:02
प्रवासी प्रबंधन के रोड मैप का श्रेय नीतीश कुमार को जाता है: राजीव रंजन

स्पेशल ट्रेन की मांग भी बिहार सरकार ने सर्वप्रथम रखी, इन दोनों ही मांगों को पीएम नरेन्द्र मोदी ने स्वीकार कर न केवल बिहार बल्कि सम्पूर्ण राष्ट्र के लिए प्रवासियों को गृह राज्य तक पहुँचाने का मार्ग प्रशस्त कर दिया।

पटना। जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा प्रवासियों के लिए व्यवस्थित प्रबंधन का मार्ग प्रशस्त करने एवं न केवल बिहार बल्कि पूरे राष्ट्र को इस आपदा की घड़ी में एक रोड मैप पर चलने की पृष्ठभूमि भी उन्होंने तैयार कर दी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग में उन्होंने प्रवासी मजदूरों, छात्रों, पर्यटकों एवं तीर्थ यात्रियों को राज्य मेंलाने के लिए लॉक डाउन के गाइड लाइन्स में बदलाव की मांग रखी। इसके बाद स्पेशल ट्रेन की मांग भी बिहार सरकार ने सर्वप्रथम रखी, इन दोनों ही मांगों को पीएम नरेन्द्र मोदी ने स्वीकार कर न केवल बिहार बल्कि सम्पूर्ण राष्ट्र के लिए प्रवासियों को गृह राज्य तक पहुँचाने का मार्ग प्रशस्त कर दिया।

प्रसाद ने कहा कि पिछले 24दिनों में 1029 ट्रेनों से 15.36लाख प्रवासी कल तक राज्य में आ चुके हैं। आज भी 122 ट्रेनों के जरिये लगभग 2 लाख लोग आ रहे हैं। जबकि इस माह के अंत तक 395 ट्रेन प्रस्तावित हैं। प्रसाद ने कहा कि प्रवासियों को उनके स्किल के आधार पर काम मिलने लगा है, जिसमे अकेले पूर्णिया में थ्री प्लाई मास्क बनाने के कार्य मे 2 हज़ार से ज्यादा मजदूर लगाए गए जिन्हें टेलरिंग आता था और वे 600 से 800 रुपये प्रतिदिन अर्जित कर रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।