चक्रवात ‘गज’ ने तमिलनाडु में 11 लोगों की जान ली: पलानीस्वामी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 16, 2018   14:54
चक्रवात ‘गज’ ने तमिलनाडु में 11 लोगों की जान ली: पलानीस्वामी

मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने शुक्रवार को कहा कि तमिलनाडु तट पार कर चुके भीषण चक्रवाती तूफान ‘गज’ ने 11 लोगों की जान ले ली। ‘गज’ ने शुक्रवार तड़के नागपट्टिनम और वेदारण्यम के बीच तट पार किया

सलेम। मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने शुक्रवार को कहा कि तमिलनाडु तट पार कर चुके भीषण चक्रवाती तूफान ‘गज’ ने 11 लोगों की जान ले ली। ‘गज’ ने शुक्रवार तड़के नागपट्टिनम और वेदारण्यम के बीच तट पार किया जिससे भारी बारिश हुई और खासतौर से नागपट्टिनम में संचार तथा बिजली ढांचे को गंभीर नुकसान पहुंचा। सलेम में संवाददाताओं से बातचीत में पलानीस्वामी ने कहा कि युद्ध स्तर पर राहत कार्य चलाया जाएगा और काम अब भी चल रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘सरकार को सूचना मिली है कि अभी तक 11 लोगों की मौत हो गई।’’ उन्होंने आगे कोई विस्तृत जानकारी नहीं दी।

उन्होंने कहा कि मृतकों के परिवार को मुख्यमंत्री सार्वजनिक राहत कोष से 10-10 लाख रुपये की वित्तीय सहायता दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं उन्हें राहत के तौर पर एक लाख रुपये जबकि मामूली रूप से घायलों को 25-25 हजार रुपये दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि गज से मत्स्यपालन क्षेत्र समेत अन्य क्षेत्रों में हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा है। ‘गज’ के नागपट्टिनम और वेदारण्यम के बीच तट पार करने पर तटीय इलाकों में भारी बारिश हुई। निचले इलाकों से 80,000 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित निकाला गया। चक्रवाती तूफान के कारण चली प्रचंड हवाओं से नागपट्टिनम और कराईकल जिलों में सैकड़ों पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए। कुडलूर और पुदुकोट्टई जैसे अन्य जिलों में भी चक्रवात से काफी नुकसान पहुंचा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।