बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 14 हुई, अब तक 2968 संक्रमित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 27, 2020   07:13
बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 14 हुई, अब तक 2968 संक्रमित

बिहार में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 231 नये मामले के प्रकाश में आने के साथ प्रदेश में कोविड-19 से संक्रमित मामले अब बढकर 2968 हो गये हैं।

नालंदा। बिहार में नालंदा जिले में कोरोना वायरस संक्रमित एक और मरीज की मृत्यु के साथ प्रदेश में इस रोग से मरने वालों की संख्या बढ़कर 14 हो गयी है। नालंदा के सिविल सर्जन डॉ राम सिंह ने मंगलवार को बताया कि 40 वर्षीय संक्रमित व्यक्ति को 24 मई को पावापुरी स्थित वर्द्धमान इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में भर्ती कराया गया था और स्थिति अधिक बिगडने पर उसने उसी दिन दम तोड दिया। उसके नमूनों की 25 मई की रात्रि में आयी रिपोर्ट में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई थी। नालंदा जिला के अस्थावां थाना अंतर्गत जियार गाँव निवासी यह व्यक्ति गत 20 मई को नोयडा से आया था। उसे अस्थावां के एक पृथक-वास में रखा गया था पर खांसी, जुकाम और बुखार जैसे लक्षण विकसित होने के बाद उसे 24 मई को वर्द्धमान इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में भर्ती कराया गया था।। इस व्यक्ति के शव को ले जाने से एम्बुलेंस के चालक द्वारा इंकार कर दिए जाने और मौके से फरार हो जाने के बारे में सिविल सर्जन ने कहा कि चालक प्रमोद कुमार तिवारी के खिलाफ बिहार शरीफ थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी की गई है। 

इसे भी पढ़ें: बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले 2870 हुए, अब तक 800 मरीज हुए ठीक

उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों को भी उनके रोगी में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने को लेकर सूचित किया गया था पर उन्होंने भी शव लेने से इनकार कर दिया। बिहार में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 231 नये मामले के प्रकाश में आने के साथ प्रदेश में कोविड-19 से संक्रमित मामले अब बढकर 2968 हो गये हैं। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक कोरोना वायरस संक्रमण के मंगलवार को जो 231 नये मामले प्रकाश में आए हैं उनमें रोहतास के 35, मधुबनी के 31, खगडिया के 23, किशनगंज के 17, बांका के 15, भागलपुर के 14, दरभंगा एवं सहरसा के 12—12, पूर्वी चंपारण के 10, सुपौल के आठ, शेखपुरा के सात, पटना के छह, सारण, सिवान एवं गया के पांच-पांच, गोपालगंज, लखीसराय, नालंदा एवं जहानाबाद के चार-चार, अररिया के तीन, वैशाली, जमुई, मधेपुरा, अरवल, शिवहर, समस्तीपुर एवं बेगूसराय के एक—एक मामले शामिल हैं। 

इसे भी पढ़ें: रेल मंत्री बनाम महाराष्ट्र सरकार: रेलवे ने तैयार की 145 श्रमिक ट्रेनें, अब तक सिर्फ 13 ही चल पाईं

गौरतलब है कि बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण से अबतक कुल 14 मरीजों पटना, वैशाली एवं खगडिया में दो—दो तथा मुंगेर, रोहतास, पूर्वी चंपारण, सीतामढी, बेगूसराय, सिवान, सारण एवं नालंदा जिले में एक—एक मरीज की मौत हो चुकी है। बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले अब तक सबसे अधिक पटना में 217, रोहतास में 201, बेगूसराय में 157, मुंगेर में 148, मधुबनी में 176, खगडिया में 143, कटिहार में 134, बक्सर में 114, जहानाबाद मेंं 112, बांका में 106, गोपालगंज में 99, नालंदा में 91, भागलपुर में 95, पूर्वी चंपारण में 83, नवादा में 71, दरभंगा एवं सिवान में 66—66, समस्तीपुर में 63, औरंगाबाद एवं वैशाली में 59—59, सहरसा एवं सुपौल में 55—55, गया में 53, एवं शेखपुरा में 52—52, कैमूर में 49, भोजपुर में 47, पूर्णिया में 45, मधेपुरा एवं सारण में 43—43, पश्चिम चंपारण में 42, सीतामढी में 39, मुजफ्फरपुर में 38, अरवल में 34, लखीसराय में 32, जमुई में 29, किशनगंज में 31, अररिया में 14तथा शिवहर में एक मामले प्रकाश में आए हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 03 मई से अबतक कोरोना वायरस संक्रमण के जो मामले प्रदेश में प्रकाश में आए हैं, उनमें प्रवासी श्रमिकों की संख्या 1900 रही है, जो इस अवधि के दौरान दर्ज किए गए मामलों की कुल संख्या का लगभग 80 प्रतिशत है। सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सचिव अनुपम कुमार के अनुसार 1026 श्रमिक स्पेशल ट्रेन से 15.41 लाख प्रवासी श्रमिक लॉकडाउन के दौरान बिहार में अब तक वापस आए हैं और अन्य 5.29 लाख लोग 321 विशेष ट्रेनों से भविष्य में आने की संभावना हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।