अभिनंदन से मिलीं रक्षा मंत्री, पायलट ने पाकिस्तान में मानसिक प्रताड़ना की बात कही

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 3 2019 10:49AM
अभिनंदन से मिलीं रक्षा मंत्री, पायलट ने पाकिस्तान में मानसिक प्रताड़ना की बात कही
Image Source: Google

सूत्रों ने बताया कि वह मानसिक रूप से मजबूत हैं और पाकिस्तान में प्रताड़ना के बावजूद जोश से भरे हुए हैं। वायु सेना प्रमुख बी एस धनोआ और भारतीय वायु सेना के कई शीर्ष अधिकारियों ने भी वर्धमान से मुलाकात की।

नयी दिल्ली। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान से मुलाकात की और उनसे कहा कि समूचे राष्ट्र को उनके साहस एवं दृढ़ता पर गर्व है। भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव को कम करने की कोशिश के तहत पाकिस्तान द्वारा अभिनंदन को रिहा करने के एक दिन बाद यह मुलाकात हुई। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि वर्धमान ने पाकिस्तान में करीब 60 घंटे तक रहने के दौरान दी गई मानसिक प्रताड़ना के बारे में सीतारमण को संक्षिप्त जानकारी दी। उन्हें बुधवार को पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में पकड़ा गया था।



 
सूत्रों ने बताया कि वह मानसिक रूप से मजबूत हैं और पाकिस्तान में प्रताड़ना के बावजूद जोश से भरे हुए हैं। वायु सेना प्रमुख बी एस धनोआ और भारतीय वायु सेना के कई शीर्ष अधिकारियों ने भी वर्धमान से मुलाकात की। गौरतलब है कि उन्हें पाकिस्तानी अधिकारियों ने 27 फरवरी को पकड़ लिया था। दरअसल, पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों के साथ हुई एक झड़प के दौरान उनका मिग 21 गिर गया था। लेकिन उन्होंने अपने विमान के गिरने से पहले पाकिस्तानी वायुसेना के एफ - 16 को मार गिराया था। 


सूत्रों ने बताया कि उन्होंने वायु सेना के वरिष्ठ अधिकारियों को बताया कि पाकिस्तान के कब्जे में रहने के दौरान उनका मानसिक उत्पीड़न किया गया हालांकि उन्हें शारीरिक रूप से प्रताड़ित नहीं किया गया। उन्होंने बताया कि सीतारमण ने आर्मी रिचर्स एंड रेफरल अस्पताल में पायलट से मुलाकात की जहां उनकी चिकित्सा जांच चल रही है। उनकी पत्नी स्वाड्रन लीडर तन्वी मारवाह (सेवानिवृत्त), सात साल का बेटा और बहन अदिति भी वहां मौजूद थे। अभिनंदन शुक्रवार देर शाम अटारी - वाघा सीमा होते हुए भारत पहुंचे और इसके करीब ढाई घंटे बाद रात करीब पौने 12 बजे वह वायुसेना के एक विमान से नयी दिल्ली पहुंचे। 
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story