दिल्ली चुनाव काम के आधार पर लड़ा जाएगा, न कि जाति या धर्म के आधार पर: केजरीवाल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 24, 2020   20:14
दिल्ली चुनाव काम के आधार पर लड़ा जाएगा, न कि जाति या धर्म के आधार पर: केजरीवाल

रोहिणी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि वह गृह मंत्री अमित शाह को अपने भाषण में अनधिकृत कॉलोनियों, शिक्षा और स्वास्थ्य के बारे में बोलते हुए सुनकर बहुत खुश हैं क्योंकि यह दर्शाता है कि आप सरकार ने देश में राजनीतिक विमर्श की दिशा बदल दी है।

नयी दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में मतदान आप सरकार द्वारा पिछले पांच वर्षों में किए गए काम के आधार पर होगा न कि जाति या धर्म के आधार पर। रोहिणी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि वह गृह मंत्री अमित शाह को अपने भाषण में अनधिकृत कॉलोनियों, शिक्षा और स्वास्थ्य के बारे में बोलते हुए सुनकर बहुत खुश हैं क्योंकि यह दर्शाता है कि आप सरकार ने देश में राजनीतिक विमर्श की दिशा बदल दी है।

केजरीवाल ने कहा, ‘‘यह दर्शाता है कि देश के बाकी हिस्सों में भाजपा जाति और धर्म के आधार पर वोट मांगती है, लेकिन दिल्ली में उन्हें स्वास्थ्य और शिक्षा जैसे विकास संबंधी कार्यों के आधार पर वोट मांगने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।’’ दिल्ली विधानसभा चुनाव के तहत मतदान आठ फरवरी को होगा और मतों की गिनती का काम 11 फरवरी को होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।