पीक आवर्स में दिल्‍ली मेट्रो का बढ़ रहा वेटिंग टाइम, ट्रैवल करने से पहले पढ़ें ये खबर

पीक आवर्स में दिल्‍ली मेट्रो का बढ़ रहा वेटिंग टाइम, ट्रैवल करने से पहले पढ़ें ये खबर

सुबह हो या शाम मेट्रो स्टेशनों के बाहर लोगों की लाइन लंबी कतारें देखने को मिल रही है। हालांकि, मेट्रो के अंदर आपको ऐसी भीड़ देखने को नहीं मिलेगी क्योंकि DMRC ने मेट्रों के अंदर यात्रियों को खड़े होकर यात्रा करने पर रोक लगाई हुई है।

दिल्ली में लॉकडाउन से जुड़ी ज्यादातर पांबदियां हटा ली गई है, जिसके मुताबिक अब रोममर्रा के काम के लिए आम लोग बस या  मेट्रो से सफर करने को मजबूर हो रहे है। लेकिन मेट्रो से सफर करने वाले कई लोगों को अब काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। आपको बता दें कि लॉकडाउन में छूट बढ़ने के साथ ही मेट्रो में लोगों की तादाद पिछले तीन हफ्तों में दोगुनी हो गई है और इसका बड़ा कारण है मेट्रो के ज्यादातर एंट्री गेट बंद पड़े रहना। 

इसे भी पढ़ें: मुंबई में दो हजार से अधिक लोगों को लगाया गया कोरोना का फर्जी टीका, महाराष्ट्र सरकार

मेट्रो स्टेशन के बाहर लग रही लोगों की लंबी लाइन!

सुबह हो या शाम मेट्रो स्टेशनों के बाहर लोगों की लाइन लंबी कतारें देखने को मिल रही है। हालांकि, मेट्रो के अंदर आपको ऐसी भीड़ देखने को नहीं मिलेगी क्योंकि DMRC ने मेट्रों के अंदर यात्रियों को खड़े होकर यात्रा करने पर रोक लगाई हुई है और यात्रियों को ट्रेनों में क्षमता से आधे यात्रियों को ट्रेवल करने की इजाजत दी गई है। सोशल डिस्टेंसिंग का सही से पालन हो इसको ध्यान में रखते हुए लोगों को एक सीट छोड़कर बैठने की सलाह दी गई है। 

मेट्रो के बाहर का हाल-बेहाल!

आपको बता दें कि DMRC के निर्देशों के कारण मेट्रो स्टोशनों के बाहर यात्रियों की लंबी कतारें देखने को मिल रही है। सोशल डिस्टेंसिंग का सही से पालन नहीं हो रहा है क्योंकि लोगों की भीड़ काफी ज्यादा बन रही है। इस भीड़ के कारण कोरोना के नियमों को काफी नजरअंदाज किया जा रहा है। भीड़ को रोकने के लिए मेट्रो के कई एंट्री गेट को बंद कर दिया जाता है जिससे लोगों में परेशान बढ़ जाती है। बुधवार को भी कशमीरी गेट, राजीव चौक, हुडा सिटी सेंटर, मंडी हाउस, चावड़ी बाजार जैसे कई मेट्रो स्टेशनों के गेट बंद कर दिए गए थे जिससे यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा।

सोशल मीडिया में छाई मेट्रो की समस्या 

परेशान लोग अब अपनी बात सोशल मीडिया पर जाहिर कर रहे है। वहीं DMRC सूत्रों के मुताबिक, इस समस्या का समाधान केवल DDMA की नई गाइडलाइंस नहीं आ जाती है तब तक कुछ नहीं किया जा सकता है।

टिकट काउंटर किया जा रहा बंद

लोगों ने शिकायत करते हुए बताया कि, मेट्रो में ज्यादा यात्री ट्रेवल न कर सकें इसके लिए टिकट काउंटर को बंद कर दिया गया है। शिकायत के बाद मेट्रो ने बयान में बताया कि केवल क्षमता से आधे यात्रियों को ही मेट्रो में बैठने की सलाह दी गई है। आगे बयान में बताया गया है कि, टिकट काउंटर को केवल जरूरत के समय ही खोला जा रहा है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...