दिल्ली ट्रैफिक पुलिस जारी करेगी खराब ड्राइवरों की लिस्ट, चार अपराधों के तहत रखा जाएगा चालकों का नाम

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 24, 2021   23:57
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस जारी करेगी खराब ड्राइवरों की लिस्ट, चार अपराधों के तहत रखा जाएगा चालकों का नाम

देश की राजधानी दिल्ली में यातायात की स्थिति को सुधारने के लिए ट्रैफिक पुलिस लगातार प्रयास कर रही है। यातायात की नई मुहिम के तहत ट्रैफिक पुलिस शहर के 100 खराब ड्राइवरों की एक लिस्ट जारी करने वाली है।

देश की राजधानी दिल्ली में यातायात की स्थिति को सुधारने के लिए ट्रैफिक पुलिस लगातार प्रयास कर रही है। यातायात की नई मुहिम के तहत ट्रैफिक पुलिस शहर के 100खराब ड्राइवरों की एक लिस्ट जारी करने वाली है। यह वह खराब ड्राइवर हैं,  जो लगातार यातायात नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं।ट्रैफिक पुलिस आयुक्त मुक्तेश चंद्र ने कहा कि इस मुहिम का मकसद उन ड्राइवरों को यह बताना है कि ,उनका ड्राइविंग कौशल बहुत खराब है और उन्हें इसमें सुधार करने की आवश्यकता है। अधिकारी के मुताबिक यह पहली बार है,जब पुलिस यातायात में सुधार पर जोर देकर इस तरह की सूची तैयार कर रही है।सूची में चालकों के नाम 4 अपराधों के आधार पर रखे जाएंगे- जिनमें रेड लाइट जपिंग, तेज गति, ड्रिंक एंड ड्राइव और खतरनाक ड्राइविंग शामिल हैं। ट्रैफिक आयुक्त का कहना है कि हमारा मकसद ड्राइवरों को यह बताना है कि उनकी ड्राइविंग इतनी खराब है कि वह  नियमित रूप से ट्रैफिक रूल्स का उल्लंघन करते हैं।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में शुक्रवार को 1.87 लाख से अधिक लोगों ने लगवाया कोविड-19 रोधी टीका

अपनी ड्राइविंग से वे खुद भी खतरे में है और साथ ही उनके परिवार और रिश्तेदार भी खतरे में हैं, जो उनके साथ सफर करते हैं। जिन चालकों की ड्राइविंग स्किल अच्छी नहीं है ,उन्हें हमारी सड़क सुरक्षा कक्षाओं में शामिल होने की आवश्यकता है। जहां उन्हें सड़क सुरक्षा के बारे में सिखाया जाएगा। ट्रैफिक पुलिस का कहना है कि यदि अपराधी बार-बार कहने के बावजूद भी ड्राइविंग कक्षाओं में शामिल नहीं होते हैं और लगातार अपराध करते रहते हैं तो मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 19 के तहत उनका लाइसेंस स्थाई रूप से रद्द कर दिया जाएगा। और  वें भविष्य में फिर कभी लाइसेंस प्राप्त करने में सक्षम नहीं होंगे।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली के CM केजरीवाल बोले- धान की पराली अब कोई समस्या नहीं है

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के अनुसार वह अधिकारियों को पहचानने के लिए अपने डेटाबेस में रखी गई जानकारी का इस्तेमाल करेगी और जब भी वह अपराधियों के खिलाफ चालान जारी करेगी तो उन्हें फीड किया जाएगा।अधिकारी ने बताया कि 1 या 2 दिन में लिस्ट जारी हो जाएगी और अपराधियों को नोटिस भेजा जाएगा कि वे लोग टोडापुर में रोड सेफ्टी क्लास लेने आएं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।