छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र की अवधि बढ़ाई जाने की माँग

छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र की अवधि बढ़ाई जाने की माँग

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि अगस्त महीने में आयोजित विधानसभा का सत्र को 4 दिनों के बजाय 10 दिनों तक बढ़ाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि विधानसभा का सत्र 25 से 28 अगस्त तक आयोजित किया गया है। आयोजित सत्र की समय अवधि कम है। इसलिये विधानसभा के सत्र को 10 दिनों के लिये बढ़ाया जाना चाहिए ताकि प्रदेश के जनहित के महत्वपूर्ण मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की जा सके।

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा का 25 अगस्त से शुरू होने वाले सत्र की अवधि बढ़ाए जाने की मांग विपक्ष ने की है। छत्तीसगढ़ विधानसभा में  नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि अगस्त महीने में आयोजित विधानसभा का सत्र को 4 दिनों के बजाय 10 दिनों तक बढ़ाई जानी चाहिए।  उन्होंने कहा कि विधानसभा का सत्र 25 से 28 अगस्त तक आयोजित किया गया है। आयोजित सत्र की समय अवधि कम है। इसलिये विधानसभा के सत्र को 10 दिनों के लिये बढ़ाया जाना चाहिए ताकि प्रदेश के जनहित के महत्वपूर्ण  मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की जा सके। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही विधानसभा का वर्चुअल सत्र आयोजित हो सके। इस  पर भी विचार किया जाना चाहिए। जिस तरह की कोरोना काल को लेकर परिस्थितियां हैं। उनके सबके बीच सत्र कैसे चले इसकी भी चिंता की जानी चाहिए। वही भाजपा विधायक दल ने विधानसभा की कार्यवाही की अवधि बढ़ाने की मांग की है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।