'लोकतंत्र सेनानी' आजम खान को हर महीने मिल रही थी 20 हजार की पेंशन, योगी सरकार ने लगाई रोक

Azam Khan
अभिनय आकाश । Feb 25, 2021 7:31PM
आजम खान को हर महीने 20 हजार रुपये मिल रहे थे। गौरतलब है कि आपातकाल के दौरान जेल गए नेताओं को लोकतंत्र सेनानी का दर्जा देकर उन्हें मासिक पेंशन दी जाती है।

भू-माफिया घोषित किए जा चुके उत्तर प्रदेश के रामपुर से सांसद आजम खान को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एक और झटका दिया है। आजम खान को लोकतंत्र सेनानी के रूप में हर महीने मिलने वाली पेंशन पर रोक लगा दी है। आजम खान को हर महीने 20 हजार रुपये मिल रहे थे। गौरतलब है कि आपातकाल के दौरान जेल गए नेताओं को लोकतंत्र सेनानी का दर्जा देकर उन्हें मासिक पेंशन दी जाती है।

इसे भी पढ़ें: सपा के हंगामे पर बोले CM योगी, ज्यादा गर्मी न दिखाएं, जो भाषा समझते हैं वैसा डोज समय-समय पर देता हूं

आपातकाल के दौरान जेल जाने वाले नेताओं को मिल रही पेंशन

इंदिरा गांधी सरकार द्वारा 1975 में लाए गए आपातकाल के दौरान जेल जाने वाले नेताों को लोकतंत्र सेनानी का दर्जा देकर उन्हें मासिक पेंशन दिए जाने का प्रावधान किया गया था। आजम खान को पेंशन का लाभ मिल रहा था। जब रामपुर के लोकतंत्र सेनानियों की लिस्ट जारी हुई तो उसमें शामिल 35 नामों में आजम खान का नाम नहीं था। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़