• पुलिसकर्मियों का प्रदर्शन जारी, बार काउंसिल और दिल्ली बार एसोसिएशन को HC का नोटिस

अभिनय आकाश Nov 05, 2019 18:05

दिल्ली हाई कोर्ट ने बार काउंसिल और दिल्ली बार एसोसिएशन को नोटिस जारी किया है. इस मामले में कल फिर सुनवाई होगी। केंद्र ने आरोपी वकीलों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

दिल्ली में खाकी और काले कोट के बीच का विवाद के बाद करीब 9 घंटे से पुलिसकर्मियों का प्रदर्शन जारी है। इस मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने बार काउंसिल और दिल्ली बार एसोसिएशन को नोटिस जारी किया है. इस मामले में कल फिर सुनवाई होगी। केंद्र ने आरोपी वकीलों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। गृह मंत्रालय ने पूरे मामले पर नजर बनाकर रखी है। गृह सचिव ने गृह मंत्री अमित शाह को हालात की जानकारी दी है। वहीं अपनी 10 मांगो को लेकर  पुलिसकर्मी प्रदर्शन कर रहे हैं। पुलिसकर्मियों के साथ उनके परिजन भी प्रदर्शन में शामिल हैं।

बता दें कि दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट के बाहर 2 नवंबर को पुलिस और वकीलों के बीच जो हिंसक झड़प हो गई थी। जिसके बाद वकीलों ने आगजनी की और पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। बस इसी वजह से ये विवाद बढ़ता चला गया जो कि एक कोर्ट से दूसरी कोर्ट और एक शहर से दूसरे शहर तक पहुंच गया। अब दिल्ली पुलिस मुख्यालय के बाहर पुलिस जवान इंसाफ के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं और अपनी मांग को लेकर अड़े हैं। दिल्ली पुलिस मुख्यालय के बाहर पुलिसकर्मी प्रदर्शन कर रहे हैं उनका कहना है कि इस वक्त वह सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे हैं, क्योंकि जहां पर वकीलों का गुट किसी पुलिसकर्मी को देख रहा है तो वह उसपर हमला कर दे रहा है. जैसा कि तीस हजारी कोर्ट के बाद साकेत कोर्ट, कड़कड़डूमा कोर्ट में भी वकीलों ने पुलिसकर्मी पर हमला कर दिया था।जवानों के प्रदर्शन के बीच दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने कहा है कि ये हमारे लिए परीक्षा की घड़ी है, सभी जवान शांति बनाए रखें और अपनी ड्यूटी पर वापस लौटें। हम कानून के रखवाले हैं और हमें अनुशासन में रहना है।