धर्मेंद्र यादव ने EVM की अदला-बदली और छेड़छाड़ के लगाए आरोप

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 25 2019 5:13PM
धर्मेंद्र यादव ने EVM की अदला-बदली और छेड़छाड़ के लगाए आरोप
Image Source: Google

सपा के सांसद व बदायूं लोकसभा सीट से उम्मीदवार धर्मेन्द्र यादव ने बताया कि कल से ही मैं और मेरे साथ अन्य प्रत्याशी बहजोई मंडी समिति परिसर में स्थित स्ट्रांग रूम पर एजेंट के लिए जिला प्रशासन से अनुमति मांग रहे थे, किंतु डीएम द्वारा अनुमति नहीं दी गई और कल शाम ही 6:00 बजे से लेकर 9:00 बजे के बीच की यह घटना है।

सम्भल। उत्तर प्रदेश की बदायूं लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी (सपा) के लोकसभा उम्मीदवार धर्मेंद्र यादव ने गुरूवार को आरोप लगाया कि सम्भल जिले के बहजोई मंडी समिति परिसर में जिला प्रशासन ने चुनाव के बाद स्ट्रांग रूम में रखी गई ईवीएम मशीनों की अदला-बदली और उनसे छेड़छाड़ की। यादव का आरोप है कि सम्भल के डीएम और एसएसपी भाजपा से मिले हुए हैं और भाजपा प्रत्याशी को लाभ पहुंचाने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 24 अप्रैल की शाम 6 बजे से 10 बजे तक कुछ बड़ा घपला हुआ है, जिसका एक वीडियो भी वायरल हुआ, जिसमें स्ट्रांग रूम के उस कमरे की सील टूटी हुई स्पष्ट नजर आ रही है, जिसमें बदायूं लोकसभा की 111 गुन्नौर विधानसभा की ईवीएम मशीनें रखी गई हैं। धर्मेंद्र यादव ने इसके लिए सीधा जिला प्रशासन पर गड़बड़ी करने का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग से दोषियों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की मांग की है।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: सपा-बसपा पर जमकर बरसे योगी आदित्यनाथ, बोले- आजमगढ़ को बना दिया आतंक का गढ़

वहीं, इस मामले में जिलाधिकारी अविनाश कृष्ण सिंह से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यह सब बातें बिल्कुल गलत हैं, सरासर झूठ हैं, निराधार हैं, ऐसा कुछ भी नहीं है। सपा के सांसद व बदायूं लोकसभा सीट से उम्मीदवार धर्मेन्द्र यादव ने बताया कि कल से ही मैं और मेरे साथ अन्य प्रत्याशी बहजोई मंडी समिति परिसर में स्थित स्ट्रांग रूम पर एजेंट के लिए जिला प्रशासन से अनुमति मांग रहे थे, किंतु डीएम द्वारा अनुमति नहीं दी गई और कल शाम ही 6:00 बजे से लेकर 9:00 बजे के बीच की यह घटना है।

इसे भी पढ़ें: यूपी के प्रतापगढ़ में 17 प्रत्याशियों के पर्चे खारिज



उन्होंने आरोप लगाया कि हमारे कुछ जिम्मेदार साथी लोग वहां पर थे जिन्होंने सूचना व वीडियो फुटेज दिए हैं, वीडियो फुटेज के बाद यह साबित होता है कि स्ट्रांग रूम के बाहरी दरवाजे की जाली तोड़ी गई, आउटर गेट की जाली तोड़ी गई और अंदर वाले गेट की सील तोड़कर ईवीएम मशीनों की अदला-बदली कर फिर से नई सील लगाने का काम किया गया है। बीजेपी के लोगों ने गुन्नौर विधानसभा क्षेत्र की ईवीएम बदली हैं, सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद ही यह तय हो पाएगा लेकिन छेड़खानी की गई है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप