दिग्विजय सिंह ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को बताया ‘गद्दार’

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 6, 2021   07:14
दिग्विजय सिंह ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को बताया ‘गद्दार’

दिग्विजय ने कहा‘‘मध्यप्रदेश में (वर्ष 2018 में हुए चुनाव में) कांग्रेस की सरकार तो बन गयी थी। सिंधिया जी चले गए छोड़कर और 25-25 करोड़ रुपये ले गए एक-एक विधायक का। अरे कांग्रेस के साथ गद्दारी कर गए। इसका मैं क्या करूं। किसने सोचा था। जनता ने तो कांग्रेस की सरकार बनवा दी थी।’’

भोपाल/गुना (मप्र)|  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने विधायकों के साथ कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल होने पर केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया पर हमला करते हुए उन्हें ‘गद्दार’ बताया।

सिंधिया द्वारा दिग्विजय के गृह नगर राघोगढ़ में शनिवार को पहली बार सार्वजनिक सभा करने के कुछ ही घंटों बाद उन्होंने यह टिप्पणी की है।

सिंधिया की इस सार्वजनिक सभा में अपने पूरे भाषण के दौरान एक बार भी दिग्विजय सिंह का नाम लिए बगैर उन पर निशाना साधा था। इस सभा में दिवंगत पूर्व विधायक मूल सिंह के पुत्र एवं कांग्रेस नेता हितेन्द्र सिंह ने अपने हजारों साथियों के साथ भाजपा की सदस्यता ग्रहण की थी।

दिग्विजय ने शनिवार को गुना जिले के मधुसूदनगढ़ इलाके के रघुनाथ गांव और विदिशा जिले के मुंडेला गांव में सभाओं को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मध्यप्रदेश में (वर्ष 2018 में हुए चुनाव में) कांग्रेस की सरकार तो बन गयी थी। सिंधिया जी चले गए छोड़कर और 25-25 करोड़ रुपये ले गए एक-एक विधायक का। अरे कांग्रेस के साथ गद्दारी कर गए। इसका मैं क्या करूं। किसने सोचा था। जनता ने तो कांग्रेस की सरकार बनवा दी थी।’’

उन्होंने आगे कहा, ‘‘इतिहास इस बात का साक्षी है। एक व्यक्ति गद्दारी करता है, तो उसकी पीढ़ी दर पीढ़ी गद्दारी पे गद्दारी करती है।’’

मध्यप्रदेश भाजपा प्रवक्ता एवं सिंधिया के कट्टर समर्थक पंकज चतुर्वेदी ने ‘भाषा’ से कहा, ‘‘आज दिग्विजय को सिंधिया में तमाम प्रकार की बुराइयां एवं दोष नजर आते हैं। जब सिंधियाकांग्रेस पार्टी में थे तब वह उनके आगे-पीछे घूमा करते थे और उनकी तारीफें किया करते थे। मुझे दिग्विजय की सोच पर तरस आता है।

दिग्विजय जी गद्दारी तो आपने एवं कमलनाथ (मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री) ने की है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ धोखा उसे कहते हैं जिसे आपने एवं कमलनाथ ने दिया है। गद्दारी उसको कहते हैं, जो आपने एवं कमलनाथ ने की है और जिसका नतीजा आपको पिछले साल हुए प्रदेश की 28 विधानसभा उपचुनाव में मिला।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...