कोर्ट से फटकार का असर, EC ने 2 मई को जीत के बाद सभी विजय जुलूसों पर लगाया प्रतिबंध

कोर्ट से फटकार का असर, EC ने 2 मई को जीत के बाद सभी विजय जुलूसों पर लगाया प्रतिबंध

2 मई को पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी विधानसभा चुनाव के नतीजे आने है। कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच मद्रास हाई कोर्ट ने कल चुनाव आयोग को जमकर फटकार लगाई थी।

देश में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के बीच 2 मई को पांच राज्यों के चुनावी नतीजे आने है। इसको देखते हुए चुनाव आयोग की ओर से कई अहम कदम उठाए गए है। 2 मई को जब पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित किए जाएंगे, उस दौरान किसी भी तरह के विजय जुलूस या जश्न पर चुनाव आयोग में पूरी तरह से पाबंदी लगा दी है। कोरोना वायरस संकट को देखते हुए चुनाव आयोग का यह फैसला काफी सख्त मारा जा रहा है। चुनाव आयोग ने यह भी कहा कि नतीजों के बाद कोई भी प्रत्याशी सिर्फ दो लोगों के साथ अपनी जीत का सर्टिफिकेट लेने जा सकता है।

आपको बता दें कि 2 मई को पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी विधानसभा चुनाव के नतीजे आने है। कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच मद्रास हाई कोर्ट ने कल चुनाव आयोग को जमकर फटकार लगाई थी। कोर्ट ने कहा था कि कोरोना संकट के लिए क्यों ना चुनाव आयोग को जिम्मेदार माना जाए।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।