अवैध खनन मामले में ED ने प्रेम प्रकाश को किया गिरफ्तार, छापेमारी में घर से मिले थे दो एके-47

two AK 47
ANI
अंकित सिंह । Aug 25, 2022 10:43AM
कुल मिलाकर देखें तो जांच एजेंसियों की कार्रवाई लगातार जारी है और इन्हें के नए-नए खुलासे भी हो रहे हैं। ईडी ने इस मामले की जांच के तहत बुधवार को रांची स्थित प्रकाश के परिसरों समेत झारखंड, बिहार, तमिलनाडु और दिल्ली- राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में कुछ स्थानों पर छापेमारी की थी।

अवैध खनन के मामले में प्रवर्तन निदेशालय की ओर से लगातार कार्रवाई की जा रही है। बुधवार को भी अवैध खनन के मामले में झारखंड में प्रवर्तन निदेशालय की कार्रवाई देखी गई। इसी संबंध में प्रेम प्रकाश नाम से एक व्यक्ति को ईडी ने गिरफ्तार किया है। प्रेम प्रकाश को बुधवार देर रात करीब 2:00 बजे हिरासत में लिया गया है और उसे आज अदालत में पेश किया जाएगा। खबर के मुताबिक जांच एजेंसी उसकी हिरासत की मांग करेगी। धन शोधन निवारण अधिनियम मामले में यह तीसरी गिरफ्तारी है। प्रेम प्रकाश को भी झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का बेहद करीबी बताया जाता है। इससे पहले हेमंत सोरेन के राजनीतिक सहयोगी पंकज मिश्रा और मिश्रा के सहयोगी एवं बाहुबली बच्चू यादव को भी गिरफ्तार किया जा चुका है। 

इसे भी पढ़ें: क्या हेमंत सोरेन की CM पोस्ट से होने वाली है छुट्टी ? मुख्यमंत्री आवास पर बुलाई गई बैठक, भाजपा का दावा- भाभी जी की ताजपोशी की तैयारी

कुल मिलाकर देखें तो जांच एजेंसियों की कार्रवाई लगातार जारी है और इन्हें के नए-नए खुलासे भी हो रहे हैं। ईडी ने इस मामले की जांच के तहत बुधवार को रांची स्थित प्रकाश के परिसरों समेत झारखंड, बिहार, तमिलनाडु और दिल्ली- राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में कुछ स्थानों पर छापेमारी की थी। प्रेम प्रकाश के यहां से दो एके-47 राइफल तथा 60 कारतूस बरामद किये गए थे। बरामद किए गए हथियार झारखंड के दो पुलिस कांस्टेबलों के थे। इन दोनों पुलिस कांस्टेबलों निलंबित कर दिया गया है। उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। 

इसे भी पढ़ें: भूपेश बघेल का भाजपा पर तंज, झारखंड में सरकार गिराने की कोशित उल्टी पड़ी, बिहार में गंवानी पड़ी

इससे पूर्व प्रवर्तन निदेशालय की चल रही छापेमारी में आरोपियों के साथ मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का नाम जोड़े जाने पर राज्य सरकार ने कड़ी आपत्ति जतायी है और चेतावनी दी है कि जिन मीडिया प्लेटफार्मों पर दुर्भावनापूर्ण रिपोर्ट और ट्वीट-डिजिटल पोस्ट डालने के मामले का पता चलता है उनके खिलाफ उचित कानूनी प्रावधानों के अनुरूप कदम उठाए जायेंगे। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के कार्यालय से आज शाम जारी विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘राज्य में चल रही ईडी की छापेमारी के संदर्भ में कुछ मीडिया संस्थानों द्वारा झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन का नाम आरोपी के साथ जोड़ा जा रहा है। मुख्यमंत्री कार्यालय इस पर कड़ी आपत्ति दर्ज करता है।’’ 

अन्य न्यूज़