अनिल देशमुख के धन शोधन मामले में महाराष्ट्र के एक और मंत्री को ईडी ने भेजा सम्मन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 25, 2021   15:07
अनिल देशमुख के धन शोधन मामले में महाराष्ट्र के एक और मंत्री को ईडी ने भेजा सम्मन

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री अनिल देशमुख और अन्य के खिलाफ दर्ज धन शोधन के मामले में अगले हफ्ते पूछताछ के लिए शिवसेना नेता और राज्य के परिवहन मंत्री अनिल परब को नया सम्मन जारी किया है।

मुंबई। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री अनिल देशमुख और अन्य के खिलाफ दर्ज धन शोधन के मामले में अगले हफ्ते पूछताछ के लिए शिवसेना नेता और राज्य के परिवहन मंत्री अनिल परब को नया सम्मन जारी किया है। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। परब (56) को जारी यह दूसरा सम्मान है। वह मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास आघाडी (एमवीए) सरकार में संसदीय मामलों के भी मंत्री हैं।

इसे भी पढ़ें: बंगाल की खाड़ी में गहरे दबाव का क्षेत्र बना, ओडिशा, आंध्र प्रदेश में चक्रवात की चेतावनी 

महाराष्ट्र विधान परिषद में पार्टी के तीन बार के विधायक परब को एजेंसी ने पहली बार 31 अगस्त को पेश होने के लिए सम्मन भेजा था और उन्होंने आधिकारिक कामकाज का हवाला देते हुए पेश होने से इनकार कर दिया था। अधिकारियों ने बताया कि मंत्री को अब 28 सितंबर को दक्षिण मुंबई में ईडी के कार्यालय में मामले के जांच अधिकारी के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया है। उन्होंने बताया कि परब से देशमुख के खिलाफ धन शोधन के मामले की जांच के सिलसिले में पूछताछ की जानी है। मामले से जुड़े लोगों और अन्य आरोपियों ने कुछ ‘‘खुलासे’’ किए हैं जिसके बाद परब से पूछताछ की जानी है। ये सम्मन महाराष्ट्र पुलिस में कथित तौर पर 100 करोड़ रुपये के घूस एवं वसूली गिरोह में ईडी द्वारा की जा रही आपराधिक जांच से जुड़े हैं।

इसे भी पढ़ें: राजस्थान के सीएम गहलोत से मिलने पहुंचे पश्चिम बंगाल के राज्यपाल धनखड़, उनका हालचाल जाना

वसूली के आरोपों के कारण देशमुख ने अप्रैल में इस्तीफा दे दिया था। ईडी ने देशमुख और अन्य के खिलाफ मामला तब दर्ज किया जब सीबीआई ने मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त परमबीर सिंह द्वारा लगाए गए कम से कम 100 करोड़ की घूस के आरोपों से संबंधित भ्रष्टाचार के मामले में देशमुख पर मामला दर्ज किया।देशमुख ने कहा था कि सिंह ने मुंबई पुलिस आयुक्त के पद से हटाए जाने के बाद उनके खिलाफ आरोप लगाए हैं। ईडी जेल में बंद पुलिस अधिकारी और मामले में अन्य आरोपी सचिन वाजे के दो बार दर्ज किए गए बयान को लेकर परब से पूछताछ कर सकती है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।