वोटर आईडी को आधार कार्ड से करें लिंक, चुनाव आयोग ने शुरू किया अभियान, जानें इसकी पूरी प्रक्रिया

ECI
Twitter @ECISVEEP
अनुराग गुप्ता । Aug 01, 2022 11:14AM
चुनाव आयोग ने कहा कि वोटर आईडी को आधार कार्ड से लिंक करने से एक से अधिक निर्वाचन क्षेत्रों में या एक ही निर्वाचन क्षेत्र में एक से अधिक बार एक ही व्यक्ति के नाम के पंजीकरण की पहचान करने में मदद मिलेगी। चुनाव कानून (संशोधन) विधेयक, वोटर आईडी के साथ आधार को लिंक करने के लिए अधिकृत करता है।

नयी दिल्ली। चुनाव आयोग ने वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करने के लिए एक अभियान की शुरुआत की है। चुनाव आयोग के अनुसार, वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ने का काम मतदाताओं की पहचान स्थापित करने और मतदाता सूची में प्रविष्टियों के प्रमाणीकरण के उद्देश्य से किया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: J&K को पूर्ण राज्य का दर्जा कब किया जाएगा बहाल ? केंद्र सरकार ने दिया यह जवाब 

कैसे करें लिंक

वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करने के लिए मतदाताओं को चुनाव आयोग की वेबसाइट में जाना होगा। इसके बाद वेबसाइट में मौजूद फॉर्म-6 बी को भरना की आवश्यकता है। फॉर्म-6बी nvsp.in पर ऑनलाइन उपलब्ध होगा। इसके अलावा वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करने के लिए मतदाता हेल्पलाइन ऐप और राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। 

चुनाव कानून (संशोधन) विधेयक, वोटर आईडी के साथ आधार को लिंक करने के लिए अधिकृत करता है, जिसे लोकसभा ने दिसंबर 2021 में ध्वनि मत से पारित किया था।

इसे भी पढ़ें: किसकी शिवसेना? EC ने 8 अगस्त तक शिंदे और उद्धव खेमे को दस्तावेजी सबूत पेश करने को कहा 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चुनाव आयोग ने कहा कि वोटर आईडी को आधार कार्ड से लिंक करने से एक से अधिक निर्वाचन क्षेत्रों में या एक ही निर्वाचन क्षेत्र में एक से अधिक बार एक ही व्यक्ति के नाम के पंजीकरण की पहचान करने में मदद मिलेगी।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़