इलेक्टोरल ट्रस्ट से BJP को मिला 209 करोड़ का चंदा, कांग्रेस के पास आए महज 2 करोड़

इलेक्टोरल ट्रस्ट से BJP को मिला 209 करोड़ का चंदा, कांग्रेस के पास आए महज 2 करोड़

प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट में जनता दल (यूनाइटेड) को दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है। इलेक्टोरल ट्रस्ट जनता दल (यूनाइटेड) को 25 करोड़ रुपए प्राप्त हुए हैं। इलेक्टोरल ट्रस्ट में फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज, मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर इंडिया लिमिटेड, भारती एयरटेल, भारती इंफ्राटेल और फिलिप्स कार्बन ब्लैक ने योगदान दिया है।

नयी दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) चंदे के मामले में हमेशा आगे रहती है। जहां भाजपा को 2019-20 प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट से 217.5 करोड़ रुपए मिले। वहीं 2020-2021 में 209 करोड़ रुपए मिले हैं। जो ट्रस्ट की कुल फंडिंग का 85 फीसदी है। दरअसल, इलेक्टोरल ट्रस्ट ने 2020-2021 में राजनीतिक दलों को 245.7 करोड़ रुपए दिए थे। जिसमें से भाजपा को 209 करोड़ रुपए दिए गए और बाकी की शेष राशि को कांग्रेस सहित अन्य दलों में बांट दिया गया। 

इसे भी पढ़ें: थम नहीं रहा पंजाब का में जारी घमासान, अब चन्नी-सिद्धू आमने-सामने, दोनों को बुलाया गया दिल्ली

अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट 'टाइम्स ऑफ इंडिया' के मुताबिक, इस मामले में जनता दल (यूनाइटेड) को दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है। इलेक्टोरल ट्रस्ट जनता दल (यूनाइटेड) को 25 करोड़ रुपए प्राप्त हुए हैं। इलेक्टोरल ट्रस्ट में फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज, मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर इंडिया लिमिटेड, भारती एयरटेल, भारती इंफ्राटेल और फिलिप्स कार्बन ब्लैक ने योगदान दिया है।

प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को भी 5 करोड़ रुपए दान में दिए हैं। जबकि राजद और कांग्रेस को 2-2 करोड़ रुपए, आम आदमी पार्टी को 1.7 करोड़ रुपए और लोक जनशक्ति पार्टी को 1 करोड़ रुपए मिला है। प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट ने फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज से 100 करोड़ रुपए, हल्दिया एनर्जी इंडिया लिमिटेड से 25 करोड़ रुपए, मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड से 22 करोड़ रुपए, भारती एयरटेल से 15 करोड़ रुपए, भारती इंफ्राटेल से 10 करोड़ रुपए और फिलिप्स कार्बन ब्लैक और टोरेंट समूह से 20-20 करोड़ रुपए जुटाए।

भाजपा को मिले थे 217.5 करोड़

साल 2019-20 में प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट ने 271.5 करोड़ में से भाजपा को 217.5 करोड़ रुपए, कांग्रेस को 31 करोड़ रुपए, आम आदमी पार्टी को 11.26 करोड़ रुपए, शिवसेना को 5 करोड़ रुपए, समाजवादी पार्टी और जननायक पार्टी को 2 करोड़ रुपए, लोजपा और समाजवादी पार्टी को दो-दो करोड़ रुपए और इनेलो ने एक करोड़ रुपए मिले। 

इसे भी पढ़ें: पंचायत चुनाव को लेकर अटकलें हुई तेज, कांग्रेस नेता ने लिखा CM शिवराज को पत्र

जयभारत इलेक्टोरल ट्रस्ट द्वारा चुनाव आयोग को सौंपी गई 2020-21 की रिपोर्ट के मुताबिक, भाजपा, अन्नाद्रमुक और द्रमुक को 2-2 करोड़ रुपए का योगदान दिया। आइंजिगर्टिग इलेक्टोरल ट्रस्ट ने 5 लाख रुपए का योगदान दिया, जो पूरा का पूरा भाजपा को गया है। हालांकि अन्य चुनावी ट्रस्टों की 2020-21 की योगदान रिपोर्ट जैसे एबी जनरल इलेक्टोरल ट्रस्ट, ट्रायम्फ इलेक्टोरल ट्रस्ट, न्यू डेमोक्रेटिक इलेक्टोरल ट्रस्ट और जनता निर्वाचक इलेक्टोरल ट्रस्ट को भी चुनाव आयोग की वेबसाइट पर अपलोड किया गया था। लेकिन इन सभी ने शून्य योगदान की घोषणा की है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...