नोएडा में 16वीं मंजिल से गिरकर इंजीनियर की मौत, कुछ समय पहले हुई थी सगाई

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 30, 2019   14:34
नोएडा में 16वीं मंजिल से गिरकर इंजीनियर की मौत, कुछ समय पहले हुई थी सगाई

थाना फेज-3 के प्रभारी निरीक्षक अखिलेश त्रिपाठी ने बताया, सेक्टर 121 स्थित एक सोसाइटी में रहने वाले रवि हेलीवाल की शनिवार को उनकी सोसाइटी के 16 वीं मंजिल से गिरकर संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। वह मूल रूप से झारखंड के रहने वाले थे।

नोएडा।नोएडा के थाना फेज-3 क्षेत्र के सेक्टर 121 स्थित एक सोसाइटी के 16वीं मंजिल से गिरकर एक इंजीनियर की संदिग्ध हालत में मौत हो गयी। इंजीनियर इसी सोसाइटी में रहता था। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की। पुलिस के मुताबिक शुरुआती जांच में ऐसा प्रतीत होता है कि व्यक्ति ने आत्महत्या की है।थाना फेज-3 के प्रभारी निरीक्षक अखिलेश त्रिपाठी ने बताया, "सेक्टर 121 स्थित एक सोसाइटी में रहने वाले रवि हेलीवाल की शनिवार को उनकी सोसाइटी के 16 वीं मंजिल से गिरकर संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। वह मूल रूप से झारखंड के रहने वाले थे"।

इसे भी पढ़ें: राजनाथ ने फिर बदली सीट ! इस बार पहुंचे नोएडा, महेश शर्मा जाएंगे अलवर

थाना प्रभारी ने बताया कि घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।उन्होंने बताया कि मृतक एरिक्सन कंपनी में इंजीनियर के पद पर कार्य करते थे। उनके परिजन के अनुसार कुछ समय पहले ही उनकी सगाई हुई थी। थाना प्रभारी ने बताया,‘‘प्रथमदृष्टया यह मामला आत्महत्या का लग रहा है। व्यक्ति सोसाइटी के तीसरी मंजिल पर रहता था। इस बात की जांच की जा रही है कि वह सोसायटी के 16वीं मंजिल पर कैसे पहुंचा और वहां से छलांग लगाकर आत्महत्या क्यों की।’’

इसे भी पढ़ें: दिल्ली घूमने आई थी, फिर दोस्तों ने घर में कैद करके किया सामूहिक बलात्कार

उन्होंने बताया कि पुलिस सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर मामले की जांच कर रही है। अगर मृतक के परिजन किसी के खिलाफ शिकायत करते हैं तो घटना की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच की जाएगी।थाना प्रभारी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों का पता लगेगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।